बिना अनुमति मीटिंग - सपा एमएलसी सहित लगभग तीन दर्जन नेताओं के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत

पंचायत चुनाव में मिली सफलता के बाद सपा में मीटिंग का दौर शुरू, जनपद में धारा 144 के तहत कोविड-19 कर्फ्यू भी, अभियोग पंजीकृत

By: Narendra Awasthi

Published: 11 May 2021, 12:37 PM IST

/उन्नाव. समाजवादी पार्टी द्वारा बिना अनुमति मीटिंग का आयोजन किया गया। जिसमें सपा एमएलसी, पूर्व विधायक सहित लगभग तीन दर्जन नेता शामिल हुए।शनिवार को हुए इस कार्यक्रम की जानकारी पुलिस प्रशासन तक पहुंची। एएसपी ने कहा कि पार्टी विशेष द्वारा आयोजित की गई मीटिंग में शामिल 30 - 35 लोगों के खिलाफ संगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

यह भी पढ़ें

कोई पत्नी ऐसा भी करती है जैसा इन्होंने किया, पुलिस को करना पड़ा हस्तक्षेप

मामला अजगैन थाना क्षेत्र का है। थाना क्षेत्र स्थित गीता गार्डन में सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन, पूर्व विधायक उदय राज यादव, सपा जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र यादव, पूर्व एमएलसी अरुण कुमार शुक्ला उर्फ अन्ना महाराज, अशोक चंदेल, अनिरुद्ध सिंह चंदेल के साथ लगभग 30 - 35 लोग शामिल हुए।जिसकी जानकारी होने पर अजगैन थाना पुलिस ने कार्यक्रम में शामिल सपा नेता और गीता गार्डन के मालिक के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।

इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह ने बताया कि बिना अनुमति के गीता गार्डन में पार्टी विशेष द्वारा मीटिंग का आयोजन किया गया था। जिसमें 30-35 लोग शामिल हुए। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय पूरे जनपद में धारा 144 लागू है और कोविड-19 कर्फ्यू भी लगा हुआ है। इसके बाद भी बिना अनुमति के मीटिंग उपरोक्त कानून का उल्लंघन है। सभी के खिलाफ विधि सम्मत कार्रवाई की गई है।

सपा जिलाध्यक्ष ने कहा

इस संबंध में बातचीत करने पर सपा जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र यादव ने कहा कि उन लोगों किसी प्रकार से भी कोविड-19 गाइडलाइन का उल्लंघन नहीं किया है। पंचायत चुनाव में जीते हुए नेताओं को बधाई देने का कार्यक्रम था। उनके ऊपर लगाए गए आरोप निराधार हैं।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned