संतुलित पर्यावरण के लिए पृथ्वी के कुल क्षेत्रफल का एक तिहाई हिस्सा हरा भरा हो

- आंवला, जामुन, सहजन, अमरूद, नीबू, शागौन, पिपल, पाकड़ तथा बरगद आदि के बाग बनाने का निर्देश

By: Narendra Awasthi

Updated: 05 Jul 2020, 10:49 PM IST

उन्नाव. संतुलित पर्यावरण के लिए अधिक से अधिक पौधारोपण करना अति आवश्यक है। पृथ्वी के कुल क्षेत्रफल का एक तिहाई हिस्सा हरा भरा होना चाहिए। इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए विगत 1 जुलाई से 7 जुलाई के बीच वन महोत्सव सप्ताह मनाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत सभी जनपदों को अलग-अलग लक्ष्य दिया गया है। लक्ष्य के अनुरूप सभी जनपदों पौधारोपण का कार्य चल रहा है। सचिव स्वास्थ्य एवं परिवार एवं जनपद नोडल अधिकारी वी. के. हेकाली झिमोमी, जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार, मोहान विधायक बृजेश कुमार रावत के नेतृत्व में हसनगंज तहसील के कुशहरी, नरायनपुर, बरौना, मूसेपुर, में पौधरोपण किया गया।

 

वन विभाग के साथ अन्य कई विभाग लेकर आए पौधारोपण

इस मौके पर नोडल अधिकारी ने बताया कि वृहद वृक्षारोपण 2020-21 के 48.91 लाख पौधारोपण का लक्ष्य है। जिसके अंतर्गत सभी विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को एक-एक पौधारोपण स्थल गोद लेकर पौधों की सुरक्षा व पोषण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने बताया कि शासन द्वारा निर्धारित दिशा निर्देशोें के तहत आज सायं तक सभी संबंधित विभाग दिए गए लक्ष्य के अनुरूप पौधारोपण कर अवगत कराएंगे। वन विभाग को 2005425 और अन्य विभाग को 28 लाख पौधे रोपित करने के निर्देश दिये गये है। जिसमें उद्यान विभाग 120800, रेशम विभाग 16300, सहकारिता 8000, विद्युत 3200, श्रम 2700, परिवहन 2700, पर्यावरण, ग्राम विकास, पंचायतीराज, शिक्षा, कृषि, उद्योग, रेलवे, पुलिस विभाग आदि को निर्धारित लक्ष्य के साथ निर्देशित किया गया है।

 

उसरीली भूमि को उपजाऊ बनाने की कवायद

जिलाधिकारी रवींद्र कुमार ने बताया कि पौधारोपण का उद्देश्य है कि उसरीली भूमि को उपजाऊ बनाने की है। जिसकी तैयारी करने के निर्देश पूर्व में ही दे दिए गए हैं। जनपद में सामुदायिक भूमि पर एक प्रजाति आंवला, जामुन, सहजन, अमरूद, नीबू, शागौन, पिपल, पाकड़ तथा बरगद आदि के वृक्ष जनपद के विभिन्न स्थलों पर भूमि के उपयोग के अनुरूप रोपित किये जायेगें। सभी विभागों को निर्देश दिये गये है कि पौधो के देख रेख के लिये सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों की पौध पोषण, उसे एक साल तक बढाने के लिये गोद लेगा ऐसे कर्मचारी वर्ष भर उस स्थल में लगे पौधे की देख रेख करेगें।

 

एक वर्ष बाद होगा पौधारोपण का निरीक्षण

जिलाधिकारी ने बताया एक वर्ष बाद सभी स्थलों का जनपद स्तरीय टीम से निरीक्षण कराया जायेगा। जिस स्थल पर सबसे अधिक और स्वस्थ्य तरीके से पौधों का सरंक्षण होगा। उसे जनपद स्तर पर सर्वश्रेष्ठ टीम घोषित करते हुये पुरस्कृत किया जायेगा। पौधारोपण के दौरान विधायक मोहान बृजेश कुमार रावत ने भी गा्रम कुशहरी, नरायनपुर, बरौना, मूसेपुर, में संयुक्त रूप से पौधरोपण किया। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा. राजेश कुमार प्रजापति, उप जिलाधिकारी प्रदीप वर्मा, उप निदेशक सूचना डा. मधु ताम्बे, खण्ड़ विकास अधिकारी हसनगंज के. एन. पाण्डेय सहित ग्राम प्रधान ने भी पौधारोपण किया।

 

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned