बर्ड फ्लू की दस्तक से क्षेत्र में दहशत, बतख को डिस्पोज ऑफ करने की योजना

- हड़हा गांव के तालाब में बतख का शव तैरता मिला था

- दहशत में नहीं सतर्क रहें

By: Narendra Awasthi

Published: 21 Jan 2021, 09:18 PM IST

उन्नाव. संक्रामक बीमारियों ने प्रशासनिक क्षेत्र के साथ आम जनजीवन को भी प्रभावित किया है। कोरोनावायरस के बाद डेंगू और अब बर्ड फ्लू की दस्तक से गांव में दहशत है। विगत 18 जनवरी को मृतक बतख का सैंपल जांच के लिए भोपाल भेजा गया था। जिसकी जांच रिपोर्ट आज विभाग में पहुंची। इस संबंध में सीवीओ ने बताया कि 1 किलोमीटर के क्षेत्र को प्रभावित क्षेत्र घोषित किया गया है। इसके साथ ही शेष बचे बतख का सैंपल लेकर डिस्पोज ऑफ किया जा रहा है।

 

हड़हा गांव की घटना

विगत 17 जनवरी को हड़हा नगर पंचायत के तालाब में मृत बतखों का शव मिला था। जांच के लिये 18 जनवरी को सैम्पल भोपाल भेजा गया। जिसकी जांच रिपोर्ट में आज बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। मुख्य जिला पशु चिकित्साधिकारी पीके सिंह ने कहा कि एक किलोमीटर क्षेत्र को प्रभावित क्षेत्र घोषित किया गया है। शेष बतखों की सैम्पलिंग कर उन्हें डिस्पोज ऑफ करने की तैयारी की गई है। उन्होंने कहा है कि पैनिक होने की आवश्यकता नही है। पूरे जिले में लगभग 400 से अधिक मुर्गी फार्मो के सैम्पल लिये गए थे। जिनकी रिपोर्ट निगेटिव पाई गई। आगे भी जांचे होगी। डरने के बजाय सतर्क रहने की ज्यादा जरूरत है। उल्लेखनीय है खड़ा तालाब में लगभग 60 बत्तख अभी भी है। जिन्हेंं डिस्पोज ऑफ किया जा रहा है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned