मुंबई से आया व्यक्ति मिल निकला कोरोना पोजिटिव, क्षेत्र में मचा हड़कंप

- गांव की तरफ जाने वाले सभी मार्गों पर बैरिकेडिंग लगाया गया

- प्रोटोकॉल के तहत हो रही कार्रवाई

By: Narendra Awasthi

Published: 10 May 2020, 09:30 PM IST

उन्नाव. कोविड-19 करो ना वायरस का पांचवा किस जनपद में मिलने से एक बार फिर सनसनी फैल गई। पोजिटिव निकला युवक मुंबई से आया था। जिसे सोहरामऊ में क्वॉरेंटाइन किया गया था। विगत 7 मई को आया था और 8 मई को नमूना जांच के लिए भेजा गया था। इस संबंध में उपजिलाधिकारी प्रदीप वर्मा ने बताया कि राजस्व गांव को सील कर दिया गया है। प्रोटोकॉल के तहत कार्रवाई हो रही है। गांव की तरफ जाने वाले सभी मार्गों पर बैरिकेडिंग लगा दिया गया है। अब न कोई व्यक्ति गांव के अंदर से बाहर आ सकता है और ना बाहर से अंदर ही जा सकता है। जरूरत की सामग्री के लिए पास जारी किए जा रहे हैं। जिसकी होम डिलीवरी की जाएगी। बड़ी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है। गांव में आशा बहू को घर-घर जाकर जांच की जिम्मेदारी दी गई है। क्षेत्र को टैंकर से सैनिटाइज किया जा रहा है। ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव हो रहा है। इसे लेकर अब तक जनपद में 5 के पॉजिटिव आ गए चुके हैं। इनमें एक का इलाज कानपुर में हो रहा है। एक रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। जबकि तीन का उपचार चल रहा है।

सोहरामऊ थाना क्षेत्र अंतर्गत मिर्जापुर गांव में कोरोना वायरस का पॉजिटिव के जाने के बाद हॉटस्पॉट बना दिया गया है और 500 मीटर की त्रिज्या क्षेत्र को बैरियर लगाकर सील कर दिया गया है। अपर पुलिस अधीक्षक दक्षिणी के देखरेख में बैरिकेडिंग का काम संपन्न हुआ। बैरियर पर मौजूद पुलिस बल को विशेष निर्देश भी दिए गए। इस संबंध में जानकारी करने पर कंट्रोल रूम ने बताया कि विगत आठ मई को युवक महाराष्ट्र से आया था। जिसे नवाबगंज स्थित सरस्वती मेडिकल कॉलेज में क्वॉरेंटाइन किया गया था। जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। युवक महाराष्ट्र मुंबई में बीयर बार में काम करता था और यह युवक मुंबई से पैदल ही उन्नाव के लिए चल दिया था। रास्ते में जहां साधन मिला तो उसका उपयोग किया। नहीं तो पैदल ही उन्नाव पहुंचा। परिवार वालों को भी क्वॉरेंटाइन कर दिया गया है।

कोविड-19 करो ना वायरस का नवाबगंज विकासखंड व थाना सोहरामऊ अंतर्गत मिर्जापुर गांव का युवक आने के बाद जनपद में कुल पांच केस पॉजिटिव के आ चुके हैं। जिनमें एक का उपचार के बाद नेगेटिव रिपोर्ट आ चुकी है। शुक्लागंज स्थित आई महिला का उपचार कानपुर में हो रहा है। जबकि बिहार और बांगरमऊ थाना क्षेत्र में आए युवक का उपचार लखनऊ में हो रहा है। मिर्जापुर के आए युवक को भी उपचार के लिए लखनऊ भेज दिया गया है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned