चोरी की मोटरसाइकिल से देते थे लूट की घटना को अंजाम और फंस गए पुलिस के चंगुल में

शातिर अपराधियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, पुलिस अधीक्षक ने थपथपाई पीठ, चारों अभियुक्त सदर कोतवाली के रहने वाले

By: Narendra Awasthi

Published: 26 Sep 2018, 05:54 PM IST

उन्नाव। सदर कोतवाली पुलिस ने शातिर अपराधियों को पकड़कर एक बड़े मामले का खुलासा किया है। पकड़े गए सभी अपराधी सदर कोतवाली के रहने वाले हैं और उनके खिलाफ लूट, स्नैचिंग और चोरी की घटना का मुकदमा पंजीकृत था। पकड़े गए चारों अपराधी कम उम्र के और शातिर है। जिन्होंने कट्टे के दम पर राह चलते लोगों को लूटने का काम किया। इसके साथ ही चैन स्नैचिंग की घटनाओं में भी इनका हाथ है। पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गैंगस्टर के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी। पुलिस अधीक्षक ने अपराधियों को पकड़ने वाली टीम को पुरस्कृत करने का भी घोषणा की। इस मौके पर क्षेत्राधिकारी नगर भी मौजूद थे।


चार मोटरसाइकिल के साथ अवैध असलहा बरामद

पुलिस अधीक्षक हरीश कुमार ने बताया कि पीडी नगर पेट्रोल पंप के निकट चेकिंग के दौरान संदिग्ध देखने पर सद्दाम पुत्र प्रवेश को रोका गया। जांच के दौरान सद्दाम पुत्र परवेज खान निवासी खलियान वाली मस्जिद तालिब सराय थाना कोतवाली सदर मोटरसाइकिल के विषय में कुछ नहीं बता सका। पूछताछ के दौरान मिली जानकारी के आधार पर सदर कोतवाली पुलिस ने शहनवाज पुत्र शमशाद निवासी खलियान वाली मस्जिद मोहल्ला तालिब सराय थाना सदर कोतवाली, लकी पुत्र जुनैद निवासी शेखवाड़ा थाना सदर कोतवाली, अनस पुत्र लाइक निवासी शेखवाड़ा थाना कोतवाली को गिरफ्तार किया है। जिसके पास से 315 बोर का तमंचा सहित चार मोटरसाइकिल बरामद की है। जिनमें एक हंक up35 डब्ल्यू 1355, पल्सर यूपी 35 एच 7951, स्कूटी फसीनो, मोटरसाइकिल यूपी 32 एचएम 8105 के साथ 12 हजार नगद बरामद हुआ है।


कट्टे के दम पर देते थे लूट की घटना को अंजाम

पकड़े गए अभियुक्तों द्वारा ने बताया कि विगत 28 अगस्त को रात 9:00 बजे स्कूटी सवार अभियुक्तों ने लखनऊ से कानपुर जा रहे जनार्दन दत्त को तमंचा लगाकर अपाचे मोटरसाइकिल व नगदी लूट ली थी। विगत 12 मार्च को 12:30 बजे मोटरसाइकिल हंक सवार अभियुक्तों ने अपनी आइसक्रीम फैक्ट्री जा रही माया देवी के गले से चेन छीन ली थी। इसके अतिरिक्त 8 अप्रैल को 8:30 बजे के लगभग लक्की व सद्दाम पल्सर मोटरसाइकिल से घर के सामने खड़ी राधा त्रिवेदी की गले की चेन लूट ली थी। उपरोक्त घटनाओं के बाद सदर कोतवाली पुलिस की काफी किरकिरी हो रही थी। गिरफ्तार करने वाली टीम में सदर कोतवाली पुलिस अरविंद कुमार द्विवेदी, थाना कोतवाली उप निरीक्षक शालिनी सहाय, उपनिरीक्षक जितेंद्र सिंह यादव, उपनिरीक्षक मनोज कुमार सिंह, भूपनारायण, नितिन यादव, राधेश्याम आदि शामिल है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned