चलते वाहन से माल गायब करने वाले अंतर्जनपदीय गिरोह का खुलासा, 9 लोग गिरफ्तार

गिरोह में फतेहपुर, कानपुर और हरदोई के अपराधी शामिल...

उन्नाव. बीघापुर पुलिस को उस समय बड़ी कामयाबी मिली। जब चलते वाहनों से कीमती सामान गायब करने वाले अंतर्जनपदीय गिरोह के 9 सदस्य पुलिस के हत्थे चढ़ गए। जिनके पास से लग्जरी गाड़ियों के साथ लाखों का सामान भी बरामद हुआ है। पकड़े गए सभी अभियुक्त गैर जनपद के रहने वाले हैं। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कुत्ता जानकारी के आधार पर बीघापुर पुलिस ने कैंची मोड़ के पास से गिरोह के सभी सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरोह जनपद के अलावा गैर जनपदों में भी चलती गाड़ियों से सामान चोरी करने की घटना को अंजाम देता था। चलती गाड़ियों से माल गायब होने की घटना से ट्रांसपोर्टरों में आक्रोश व्याप्त था। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गड्ढा युक्त सड़कों पर जब ट्रक धीमा होता था तो लुटेरे ट्रक पर चढ़ जाते हैं और मौका देखते ही रस्सी काटकर चलती ट्रक में लदा समान नीचे फेंक देते थे। गिरोह के अन्य सदस्य फेंके गए सामान को एकत्र कर लेते थे। गिरोह के सदस्यों के खिलाफ कानपुर सहित अन्य जिलों में भी मुकदमा पंजीकृत है।


सुबह 4 से 6 के बीच कर देते थे घटना को अंजाम

उन्होंने बताया कि चलते ट्रक पर लूट की घटना को अंजाम देने के लिए सुबह 4:00 बजे से 6:00 बजे तक का समय चुनते थे। जब पुलिस का आवागमन कम होने लगता है।उसके बाद सामान एकत्र करके लोग ठिकाने देते थे। इस तरह के कारनामे को अंजाम देने के लिए अधिकतर स्कार्पियो, जायलो व अन्य लग्जरी गाड़ियों के साथ डीसीएम लोडर का प्रयोग करते थे। गिरफ्तार अभियुक्त शातिर अपराधी हैं तथा इस तरह की घटनाओं को विगत कई वर्षों से मिलकर अंजाम दे रहे हैं। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मकान और दुकानों को में भी चोरी की घटनाओं को अंजाम देते होंगे। इस संबंध में छानबीन चल रही है। अभियुक्तों के पास से एक स्कार्पियो, जायलो, दो छोटा, हाथी तमंचा, रस्सी काटने के लिए चाकू आधा दर्जन मोबाइल सहित अन्य सामान बरामद किया गया है। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि पकड़े गए उठते अंतर्जनपदीय गिरोह के के कारण व्यापारियों व ट्रांसपोर्टरों में असुरक्षा की भावना व्याप्त थी इनकी गिरफ्तारी और माल बरामदगी से आम लोगों में सुरक्षा का एहसास हुआ

 

गैंग का सरगना जब्बार पुत्र रज्जाक निवासी फतेहपुर

पकड़े गए अभियुक्तों में जब्बार पुत्र रज्जाक निवासी फतेहपुर, ज्ञान सागर पुत्र रामबाबू निवासी एम ब्लॉक जूही कानपुर, रिंकू पुत्र सालिकराम मौर्या निवासी SDM कॉलोनी जरौली शेखपुर हरदोई, संतोष पाल पुत्र गजराज निवासी केडीए मार्केट नौबस्ता कानपुर, संजय पुत्र मुन्नू सोनकर निवासी दलीपुर घाटमपुर कानपुर, राजू पुत्र मनीष तिवारी पुत्र किशोरीलाल निवासी बर्रा कानपुर, सुरेश यादव पुत्र रामकिशन निवासी बाबू पुरवा कानपुर, सुनील गुप्ता उर्फ सुनील पोरवाल निवासी M-4 बजरंग चौराहा यशोदा नगर नौबस्ता कानपुर, प्रदीप सिंह पुत्र बबली निवासी ईडब्ल्यूएस से बर्रा कानपुर शामिल है। पकड़ने वाली टीम में थाना अध्यक्ष मनोज कुमार मिश्रा SI विनोद कुमार यादव, SI अवधेश कुमार SI सुधीर बाबू, सुरसरि शुक्ला प्रवीण यादव, महेश मिश्र सहित अन्य लोग मौजूद थे।

 

चलते ट्रक में लूट की घटना को देते थे अंजाम

बरामद सामानों में जनरल स्टोर की सामग्री के साथ गारमेंट, हार्डवेयर, कृषि यंत्र सहित अन्य सामग्री शामिल है। पकड़े गए सामानों की लिस्ट में बोतल कवर, साड़ी (62), मौजा (54), साल, बेबी लेडीज सूट, पैंट शर्ट का कपड़ा, चावल बासमती, किड्स शर्ट (35) पीस, हमजा गारमेंट शर्ट, जूनियर शर्ट, फिट वेयर शर्ट, मोनोब्लॉक, पंप पतंजलि आस्था अगरबत्ती, टास्को स्पोर्ट्स शूज 24 पीस, रिम साइकिल 10 पीस, तेल सरसों आंवला दो बोरी जैसे लगभग 46 आइटम शामिल है। कुल 45 बंडल बरामद हुए हैं जिनमें ट्रकों से उतारा गया सभी प्रकार का माल है। इनमें इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर होजरी के साथ कुछ आइटम पतंजलि के भी शामिल है।

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned