कोरोना काल में ऑनलाइन पढ़ाई का प्रेशर, हाई स्कूल के छात्र ने उठाया आत्मघाती कदम

- पुलिस ने रिवाल्वर कब्जे में ले जांच शुरू की

- सदर कोतवाली क्षेत्र में देर शाम की घटना

By: Narendra Awasthi

Published: 18 Sep 2020, 08:00 PM IST

उन्नाव. विद्यालय प्रबंधन द्वारा ऑनलाइन शिक्षा के नाम पर छात्र पर दबाव बनाना ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के परिवार को उस समय महंगा पड़ गया। जब छात्र ने अपने पिता की लाइसेंसी रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली। घटना की जानकारी मिलते ही घर में हड़कंप मच गया। किशोर को जिला अस्पताल लाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के पुत्र द्वारा गोली मारे जाने की घटना जंगल में आग की तरह फैल गई। मौके पर बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए। परिवारी जनों का हाल बेहाल था। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी नगर ने बताया कि आत्महत्या के कारणों की विवेचना की जा रही है।

सदर कोतवाली क्षेत्र की घटना

सदर कोतवाली क्षेत्र के सिविल लाइन में निवासी श्रीकांत का 16 वर्षीय पुत्र दिव्यांश अपने पिता के लाइसेंसी बंदूक से खुद को गोली मारकर मार ली। गोली की आवाज सुनकर मौके पर पहुंचे परिजनों ने आनन-फानन दिव्यांश को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस संबंध में बातचीत करने पर मृतक परिजन ने बताया कि स्कूल प्रबंधन लगातार फीस के साथ ऑनलाइन पढ़ाई का छात्र पर दबाव बना रहा था। जिसके बाद दिव्यांश ने आत्मघाती कदम उठा लिया। दिव्यांश घर का इकलौता पुत्र था। छोटी बहन पंखुड़ी, मां कंचन का रो-रोकर बुरा हाल था। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी नगर ने बताया कि आत्महत्या के कारणों की विवेचना की जा रही है। जांच रिपोर्ट आगे आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Show More
Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned