कच्छा- बनियान पहने बदमाशों ने लाठी-डंडों से पीटकर कि जेवर नगदी सहित लाखों रुपए की लूट

- प्रयाग पैसेंजर से कोरारी में घटना करने के बाद आए बदमाश

By: Ruchi Sharma

Published: 22 May 2018, 04:58 PM IST

उन्नाव. लखनऊ कानपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित स्टेडियम के पीछे घरों में मारपीट के साथ लूटपाट करने वाले गिरोह के सदस्य कच्छा बनियान के थे। जिन्होंने घटना को काफी आक्रामक तरीके से अंजाम दिया। आनन-फानन घटना को अंजाम देकर जेवर और नगदी के साथ मौके से निकल गए। घटना की जानकारी कोतवाली पुलिस को मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया और घटनास्थल का निरीक्षण किया। इधर पुलिस अधीक्षक ने भी दोपहर में घटनास्थल का निरीक्षण किया और जिला अस्पताल में उपचार कर रहा रहे घायलों से बातचीत की । उन्होंने घायलों काफी पूछताछ की। इसके साथ ही पुलिस अधीक्षक ने डॉक्टरों को भी घायलों के उपचार में किसी भी प्रकार की कमी ना रहने देने की बात कही।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए पुलिस अधीक्षक ने कहा सभी घायल आउट ऑफ डेंजर हैं। शीघ्र ही मामले का खुलासा किया जाएगा और गायब माल को बरामद किया जाएगा। उन्होंने संभावना व्यक्त की कि घटना को अंजाम देने वाले रायबरेली की तरफ से आने वाली ट्रेन से आए हैं और घटना को अंजाम देने के बाद सुबह जाने वाली ट्रेन से वापस चले गए। इस संबंध में उनकी रेलवे के उच्चाधिकारियों से भी बातचीत हुई है।

हथियारों के रूप में सभी के हाथ में डंडे थे


सदर कोतवाली क्षेत्र का मोहल्ला शिवनगर रात लगभग 2:00 बजे नकाबपोश कच्छा बनियान गिरोह के लगभग 10 सदस्य घर की बाउंड्री फांदकर अंदर घुसते हैं और बड़े आराम से लोगों की घेरेबंदी लूटपाट की घटना को अंजाम देते हैं। इस संबंध में बातचीत करने पर घायल मिलन विश्वकर्मा (35) पत्नी सुरेंद्र ने बताया कि सब लोग घर में सो रहे थे। दीवार फांदकर लगभग 10 लोग अंदर घुसे और कीमती सामान और नगदी के विषय में पूछताछ करने लगे। इसी बीच मौका देख कर मिलन 100 नंबर डायल करने चली।

फोन की रोशनी देख हमलावर हो गए कच्छा बनियान गिरोह के सदस्य


इस पर गिरोह के सदस्यों ने उस पर और उसके पति सुरेंद्र पुत्र छोटेलाल को लाठी-डंडों से मार कर गंभीर रूप से घायल कर एक कोठरी में बंद कर दिया। फिर लूटपाट की। मिलन विश्वकर्मा ने बताया कि लुटेरे शादी में मिला पुराना जेवर, जिसकी कीमत लगभग ढाई लाख रूपय की थी, साथ ले गए। यहां से निकलकर गिरोह के सदस्य अमित शुक्ला (27) पुत्र अशोक शुक्ला के घर घुस गए। जहां उन्होंने अमित को लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की। जिससे अमित बेहोश होकर गिर पड़ा। उसे मरा हुआ समझकर गिरोह के सदस्य छोड़ गए। अमित ने बताया कि लुटेरे 20 हजार नगर के साथ चेन, मंगलसूत्र, पायल व बाला आदि भी ले गए। एक एक करके लुटेरों ने चार घरों को निशाना बनाया। जिनके यहां से भी लाखों रुपए की नकदी व कीमती जेवर लूट कर ले गए।

रेलवे के उच्च अधिकारी से भी हुई है बातचीत

पुलिस अधीक्षक हरीश कुमार, अपर पुलिस अधीक्षक अनूप कुमार ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने जिला अस्पताल में घायल पड़े लोगों से भी बातचीत की। पुलिस अधीक्षक हरीश कुमार ने बताया कि घायलों से बातचीत के दौरान जानकारी मिली कि सभी बदमाश कच्छा बनियान में आए थे। जिनके हाथ में हथियार के रूप में लाठी-डंडे थे। उन्होंने संभावना व्यक्त की कि बदमाश घुमंतू टाइप के लोग हो सकते हैं। जो पहले कोरारी स्टेशन पर भी लूटपाट की घटना करने के बाद प्रयाग पैसेंजर से उन्नाव आए हैं और घटना को अंजाम देकर फिर वापस चले गए। उन्होंने कहा कि कच्छा बनियान गिरोह के सदस्य जो रेलवे स्टेशन बस स्टैंड के आसपास अपनी गतिविधियां करते हैं। इस संबंध में रेलवे के उच्चाधिकारियों से भी बातचीत की जा रही है। शीघ्र ही घटना का खुलासा कर माल बरामद किया जाएगा।

Ruchi Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned