बाढ़ के डर से ही युवक ने की थी आत्महत्या, मृतक के भाई ने किये कई और खुलासे, देखें वीडियो

Narendra Awasthi | Publish: Sep, 02 2018 07:12:19 PM (IST) Unnao, Uttar Pradesh, India

काली मिट्टी - शिवराजपुर संपर्क मार्ग बाढ़ की धार में बहा, सैकड़ों गांव में भरा गंगा का पानी

उन्नाव. पहले से ही परेशान अधेड़ के ऊपर गंगा नदी का जल सैलाब इस कदर कहर बरपाया कि उसने फांसी पर लटक कर अपनी जान दे दी। घटना की जानकारी परिजनों को उस समय हुई जब काफी आवाज देने के बाद कुछ नहीं बोला। इस संबंध में भाई ने बताया उसका बड़ा भाई काफी समय से बीमार चल रहा था। एक्स-रे और अल्ट्रासाउंड भी कराया गया। लेकिन किसी प्रकार का सुधार नहीं हुआ। वहीं दूसरी तरफ गंगा के पानी के चपेट में आकर उसकी पूरी गृहस्थी स्वाहा हो गई। जिस से परेशान भाई ने फांसी पर लटक कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वही परिवारीजनों में मातम छाया है। उनमें इस बात का भी रोष व्याप्त है कि प्रशासन द्वारा उनके लिए कुछ नहीं किया जा रहा है, जबकि विगत 15 दिनों से उनके घर पानी में डूबे पड़े हैं। वहीं गंगा के तेज बहाव से काली मिट्टी - शिवराजपुर संपर्क मार्ग का काफी हिस्सा बह गया। जिससे गंगा कटरी के सैकड़ो गांव में बाढ़ का पानी तबाही मचा रहा है।


एक तो बीमारी दूसरे बाढ़ ने ले ली सारी संपत्ति

घटना सफीपुर तहसील कोतवाली क्षेत्र की है UP कोतवाली क्षेत्र के पनपथा गांव निवासी श्यामू पुत्र मुन्नीलाल ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पोस्टमार्टम हाउस में छोटा भाई रमेश ने बताया कि श्यामू काफी लंबे समय से बीमार चल रहा था उसके पेट और सर में अक्सर दर्द बना रहता था इसके लिए उसने डॉक्टरों को दिखाकर अल्ट्रासाउंड और एक्सरे भी कराया लेकिन कोई लाभ नहीं मिला। उन्होंने बताया कि इधर विगत 15 दिनों से गंगा में आए उफान के कारण उन लोगों के गांव में पानी भर गया था। जिससे श्यामू काफी परेशान रहता था उसके घर में रखा गृहस्थी का सारा सामान पानी में डूब गया था जिसमें कपड़े-लत्ते के साथ अनाज व अन्य वस्तुएं भी शामिल है। बाढ़ में हुए नुकसान से क्षुब्ध श्यामू ने अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। उन्होंने बताया कि उनके गांव में लगभग 3 से 4 फुट पानी भरा हुआ है। लेकिन प्रशासन की तरफ से कोई मदद नहीं मिल रही हैै। वह लोग छोटी छोटी नौका से अपने गृहस्थी बचाने का प्रयास कर रहे हैं। जिला प्रशासन की तरफ से कल उन लोगों को नौका उपलब्ध कराई गई है।

 

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned