दरोगा पर पीड़ित परिवार ने लगाया गंभीर आरोप, बोले तहरीर बदलने का बना रहे दबाव

- चेन स्नेचर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया चौकी इंचार्ज ने लेकिन बरामदगी नहीं दिखाया

By: Narendra Awasthi

Updated: 24 Dec 2020, 10:18 PM IST

उन्नाव. सदर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत डीएसएन कॉलेज रोड पर मांगलिक कार्यक्रम में शामिल होने जा रही दो महिलाओं के गले में पड़ी जंजीर छीन कर चेन स्नेचर नौ दो ग्यारह हो गए। लेकिन इस दौरान छीना झपटी में आधी चेन महिला की बच गई। लूटी गई चेन की कीमत लगभग तीन लाख रुपए बताई जाती है। इस संबंध में महिला के पति ने बताया कि चेन स्नैचिंग मामले में किला चौकी इंचार्ज की भूमिका संदिग्ध लग रही है। फोन पर बातचीत के दौरान वह तहरीर बदलने की बात करते हैं। साथ ही चौकी इंचार्ज कहते हैं कि उन्होंने लुटेरों को पकड़ लिया है। लेकिन लूटी हुई जंजीर के विषय में कुछ नहीं बताते हैं।

 

सदर कोतवाली क्षेत्र की घटना

सदर कोतवाली क्षेत्र के ए बी नगर निवासी अनिल बाजपेई पुत्र कृष्ण कुमार बाजपेई ने बताया कि विगत 29 नवंबर को दोपहर लगभग 2:30 बजे अपनी पत्नी और भाभी के साथ मांगलिक कार्यक्रम में जा रहे थे। डीएसएन कॉलेज शराब गोदाम के निकट जैसे ही निकले कि दो बाइक सवार नकाबपोश बगल से गाड़ी लेकर निकाले और भाभी और उनकी पत्नी की गले में पड़े चेन को पेंडल सहित झपट्टा मारकर छीन ले गए। जिसका वजन लगभग 51 ग्राम है।

चौकी इंचार्ज पर गंभीर आरोप

उन्होंने बताया कि चौकी इंचार्ज उन पर तहरीर बदल कर देने के लिए कह रहे हैं। चौकी इंचार्ज कह रहे हैं की यह लिख कर दे दो कि शादी में व्यस्तता के कारण तहरीर समय से नहीं दे सके। जबकि उन्होंने नकाबपोशों को बिना मुझे जानकारी दिए जेल भेज तथ्य को छुपाया है। इस दौरान चौकी इंचार्ज ने नकाबपोश की मोबाइल पर फोटो दिखाकर शिनाख्त भी कराई। अब चौकी इंचार्ज कहते हैं कि आप लोग लिखकर दे दीजिए कि वह लुटेरों को पहचान नहीं सकते हैं। अनिल बाजपेई के अनुसार चौकी इंचार्ज उस दुकान का नाम भी नहीं बता रहे हैं, जहां चेन स्नेचर ने सोने की जंजीर को बेचा है। चौकी इंचार्ज पर गंभीर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि इस घृणित कार्य में वह भी संलिप्त हैं। उन्होंने जंजीर वापसी के साथ घटना की जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned