उन्नाव दुष्कर्म मामला - सीबीआई फिर पहुंची माखी गांव, दस में से पांच गवाहों के लिए बयान

उन्नाव दुष्कर्म मामला - सीबीआई फिर पहुंची माखी गांव, दस में से पांच गवाहों के लिए बयान
उन्नाव दुष्कर्म मामला - सीबीआई फिर पहुंची माखी गांव, दस में से पांच गवाहों के लिए बयान,ज्यादा रुपए लेकर उपलब्ध कराते थे रेल टिकट,ज्यादा रुपए लेकर उपलब्ध कराते थे रेल टिकट,उन्नाव दुष्कर्म मामला - सीबीआई फिर पहुंची माखी गांव, दस में से पांच गवाहों के लिए बयान,उन्नाव दुष्कर्म मामला - सीबीआई फिर पहुंची माखी गांव, दस में से पांच गवाहों के लिए बयान

Narendra Awasthi | Publish: Aug, 26 2019 09:58:06 AM (IST) Unnao, Unnao, Uttar Pradesh, India

- सीबीआई की पहुंचते ही गांव में सनसनी

- गवाहों को माखी थाना में बुला कर लिया गया बयान

उन्नाव. सुप्रीम कोर्ट में चल रहे दुष्कर्म मामले की जांच में गति देने के लिए सीबीआई टीम एक बार फिर माखी गांव गांव पहुंची। जहां उसने उन्नाव दुष्कर्म मामले से संबंधित गवाहों के बयान दर्ज किए। इस मौके पर सीबीआई द्वारा बुलाए गए कुल 10 गवाहों में से 5 थाने पर पहुंचे। शेष पांच गवाहों के विषय में बताया गया कि वह गांव में नहीं है। इस पर उन्हें जल्द आने का निर्देश दिया गया है।

 

सुप्रीम कोर्ट में हो रही सुनवाई

गौरतलब उन्नाव दुष्कर्म मामले की सुनवाई को सुप्रीम कोर्ट ने अपने हाथ में ले लिया है और सीबीआई से जल्द से जल्द कार्रवाई पूरी करने को कहा है। इसी क्रम में सीबीआई टीम माखी थाना गांव पहुंची जहां उसने थाने पर दस गवाहों की सूची के साथ कोतवाली थाना पुलिस को निर्देश दिया कि इन्हें थाने पर बुलाया जाए। इसी क्रम में गांव के रहने वाले अखिलेश, विनय उर्फ सिंपल, प्रमोद, दिनेश सिंह के अतिरिक्त बारासगवर थाना क्षेत्र के वीरपुर गेठमा निवासी अनुज सिंह थाना में सीबीआई के सामने बयान दर्ज कराने के लिए पहुंचे। इस मौके पर सीबीआई के इंस्पेक्टर हरि शंकर के साथ महिला अधिकारी भी मौजूद थी। वहीं दूसरी तरफ गवाही देने में अनुपस्थित रहे 5 गवाहों के विषय में बताया गया कि सभी गांव में नहीं है। जिनमें माखी गांव निवासी शुभम, बीना, शिवाकांत, शिवप्रसाद, चंद्रपाल शामिल है।

 

विधायक की भूमिका के संबंध में पूछताछ हुई

सीबीआई द्वारा की गई पूछताछ के संबंध में गांव में चर्चा आम हो गई कि उन्होंने पीड़िता से दुष्कर्म उसके पिता की हत्या के बारे में पूछताछ की। उपरोक्त घटना में विधायक कुलदीप सिंह की भूमिका क्या थी इस विषय में भी जानकारी प्राप्त की लगभग 3 घंटे तक बंद कमरे में पूछताछ हुई इसके पूर्व सीबीआई की टीम माखी गांव में स्थित पीड़िता के आवास पर गई और निरीक्षण करके वापस आ गई।

 

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned