उन्नाव अपडेट - आईजी ने कहा यह आप लोगों का पॉलीटिकल एजेंडा हो सकता है पर पूर्व सांसद ने कहा

- आम आदमी पार्टी, कांग्रेस, भीम आर्मी ने दर्ज कराई अपनी उपस्थिति

By: Narendra Awasthi

Published: 18 Feb 2021, 10:45 PM IST

उन्नाव. असोहा थाना क्षेत्र के बबुरहा गांव में घटी घटना के बाद पीड़िता के गांव में राजनीतिक माहौल दिखाई पड़ा। जब समाजवादी पार्टी, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, भीम आर्मी ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवार के पक्ष स्वयं को खड़ा किया और शासन और प्रशासन से सवालों की झड़ी लगाई पूछा पीड़ित परिवार को कैसे मिलेगा न्याय। सभी पार्टियों ने प्रशासन से न्याय की मांग की भारतीय जनता पार्टी के विधायक भी मौके पर पहुंच कर पीड़ित परिवार को ढांढस बनाया और बोले न्याय मिलेगा।

सपा प्रतिनिधिमंडल पहुंचा गांव

इस दौरान पूर्व सांसद अन्नू टंडन ने कहा कि उन्नाव में रोज घट रही घटनाओं से वह तंग आ चुकी हैं। इस पर आईजी लक्ष्मी सिंह ने कहा कि आप लोगों का पॉलीटिकल एजेंडा हो सकता है। लेकिन डॉक्टरों के उपचार से रोशनी की हालत पहले से बेहतर है और बोलने पर शरीर में हलचल होती है।सपा एमएलसी सुनील सिंह साजन, पूर्व विधायक उदय राज यादव, पूर्व सांसद अन्नू टंडन पूर्व राज्य मंत्री सुधीर रावत सहित अन्य सपाई मौके पर पहुंचे। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव की तरफ से घटना की जांच के लिए पूर्व सांसद अन्नू टंडन के नेतृत्व में कमेटी का गठन किया गया है।

कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल भी पहुंचा मौके पर

कांग्रेस जिला अध्यक्ष सुभाष सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसी कार्यकर्ता पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गई है प्रशासन पीड़ित परिवार के साथ न्याय करें और आर्थिक मदद के रूप में 50 लाख रुपए दे। इस दौरान पूर्व जिला अध्यक्ष जंग बहादुर सिंह सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

आम आदमी पार्टी दी पहुंचा पीड़ित से मिलने

आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विजय कुमार सिंह ने कहा कि प्रदेश में बहन बेटियों की जिंदगी सुरक्षित नहीं है। उन्होंने पीड़ित परिवार के लिए मुआवजे की मांग की इस मौके पर आम आदमी पार्टी के हर्ष प्रताप सिंह, शैलेंद्र उपाध्याय, अजमल जुनैद, अंशुल शुक्ला, राजेश चौधरी सहित अन्य लोग मौजूद थे।

भीम आर्मी ने एक करोड़ की आर्थिक मदद की मांग की

भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने पीड़ित परिवार को सरकारी नौकरी व एक करोड़ रुपए की मांग की। इस दौरान उन्होंने पीड़ित परिवार को आश्वासन दिया कि वह हमेशा उनके साथ रहेगा। देर शाम मौके पर पहुंची आईजी लक्ष्मी सिंह, डीएम रवींद्र कुमार, पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी ने उन्हें मौके से जाने को कहा। इस दौरान दोनों पक्षों में बहस भी हुई।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned