गंगा तो नीचे आ गई परंतु हम नहर के टेल तक नहीं पहुंचा सके पानी: हृदय नारायण दीक्षित

ऋण मोचन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने दिखाया आईना।

By: shatrughan gupta

Published: 11 Sep 2017, 09:09 PM IST

उन्नाव. भागीरथ के प्रयास से ऋषि मुनियों की तपस्या से मां गंगा आसमान से धरती पर आ गई, परंतु हम पानी को हरदोई से जहां उन्नाव जिले प्रवेश करती है से जनपद के दूसरे छोर मौरावा गुलरिया या बिहार तक नहीं पहुंचा पा रहे हैं। विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने स्थानीय नवीन सब्जी मंडी में आयोजित ऋण मोचन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उक्त विचार व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन से उम्मीद है कि वह जनपद की सीमा तक नहर के माध्यम से किसानों को पानी देने का काम करेंगे। सत्ता पक्ष के होने के नाते यह हमारा कर्तव्य कल है कि टेल तक नहर का पानी पहुंचाये। विधानसभा अध्यक्ष ने जिला प्रशासन से अनुरोध किया कि वह इस दिशा में कार्य करें। जिससे जनपद की सीमा तक नहर का पानी पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि एक बार पहले भी दिल्ली की सरकार द्वारा कर्ज माफी योजना का लाभ किसानों को मिला था, लेकिन वह चुनाव में जाने के पूर्व लोक लुभावन कार्य के साथ किया गया था। श्दीक्षित ने कहा कि जिस तरह समय अवधि के अंदर जिला प्रशासन ने कार्य किया है। वह सराहनीय है। उन्होंने बताया कि पूरे प्रदेश में केवल 7 जगह इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि शासन और जनता का कार्य प्रशासन करती है।

योगी सरकार ने ऋण माफी योजना का वादा पूरा किया

जनपद प्रभारी व मंत्री रमापति शास्त्री ने कहा कि सरकार ने वादे के मुताबिक के पहले के कैबिनेट की बैठक में ही किसानों के लिए ऋण माफ करने के वादे को पूरा करते हुए पास कराया था। उन्होंने कहा कि जब किसान सुखी होगा तो देश में खुशी होगी। मोदी व योगी इस व्यवस्था को ठीक करना चाहते हैं। जिससे अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को मान सम्मान मिले। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पूरे देश में रामराज्य लाएंगे, जिस प्रकार भगवान राम ने राम राज्य के लिए अपना राज्य त्यागकर निषाद, केवट, शबरी, बाल्मीकि का साथ लिया। उसी प्रकार भाजपा भी रावण रूपी असमानता को खत्म करने के लिए कृतसंकल्प है। भारतीय जनता पार्टी अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को प्रधानमंत्री व राष्ट्रपति के पद पर पहुंचा कर यह सिद्ध कर दिया है। कार्यक्रम को बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, बहुजन समाज पार्टी के विधायक अनिल सिंह, एमएलसी अरुण पाठक, विधायक पंकज गुप्ता, विधायक बंबा लाल दिवाकर, विधायक बृजेश रावत ने भी संबोधित किया। सभी ने सरकार के द्वारा किए जा रहे हैं किसान हित ऋण मोचन कार्यक्रम की तारीफ की। इस मौके पर भाजपा के जिला अध्यक्ष श्रीकांत कटिहार की नो एंट्री चर्चा का विषय बना रहा। जिसमें सरकारी कार्यक्रम बताते हुए उन्हें प्रवेश नहीं करने दिया के प्रश्न पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं है।

कोई भी पात्र व्यक्ति वंचित नहीं रह पाएगा : जिलाधिकारी

कार्यक्रम का शुभारंभ जिलाधिकारी आदिति सिंह ने अपने संबोधन के साथ किया है कि ऋण मोचन योजना के अंतर्गत 42,955 आधार कार्ड का सत्यापन बैंकों में किया गया। आज के कार्यक्रम के बाद तहसील स्तर पर कार्यक्रम करके अन्य बकाया किसानों को भी ऋण माफी का प्रमाण पत्र दिया जाएगा। जिलाधिकारी ने कहा कि कार्यक्रम में 5000 किसानों का ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किया गया। जिसकी कुल धनराशि 6182 रुपए है। कार्यक्रम के दौरान 1-1 लाख रुपए के ऋण माफी प्रमाण पत्र का वितरण जनप्रतिनिधियों ने के द्वारा किया गया। उन्होंने कहा कि बाकी बचे हुए किसानों के लिए विशेष कैंप भी लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र किसान इस योजना से वंचित नहीं रहेगा। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिला अधिकारी, अपर पुलिस अधीक्षक, नगर मजिस्ट्रेट, जिला कृषि अधिकारी के साथ कृषि विभाग के तमाम कर्मचारी मौजूद थे। इस मौके पर कई अन्य विभागों के भी कर्मचारी व्यवस्था में लगाए गए थे।

जिला अध्यक्ष ने कहा, पुलिस प्रशासन को नहीं मिलेगा कार्यकर्ताओं का सहयोग

भारतीय जनता पार्टी जिला अध्यक्ष श्रीकांत कटियार ने कहा कि प्रशासन भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष को नहीं पहचानता है। उनकी गाड़ी कई बार रोकी गई। इसके बाद मंच पर जाने का समय उनके साथ दरोगा द्वारा अभद्रता की गई। एक क्षेत्राधिकारी ने भी दरोगा की अभद्रता को सपोर्ट किया। उन्होंने कहा कि पुलिस प्रशासन अभी भी सपा मानसिकता के तहत कार्य कर रही है। यदि यही स्थिति रही तो भविष्य में भाजपा के कार्यकर्ता पुलिस प्रशासन का सहयोग नहीं करेंगे। गौरतलब है भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष श्रीकांत कटियार की गाड़ी पहले मुख्य गेट पर रोकी गई। वहां से किसी प्रकार अंदर घुसे तो उन्हें फिर एक जगह रोका गया। आगे मंच पर जाने का समय उनके साथ फिर धक्का-मुक्की की गई। उधर दूसरी तरफ मंच पर अफरा-तफरी का माहौल था। कार्यक्रम के दौरान लोगों का आना जाना व चहल कदमी बनी रही। बार-बार भाषण के दौरान हो रहे डिस्टरबेंस से विधानसभा अध्यक्ष को एक बार पहल करनी करने वालों को टोकना भी पड़ा। परंतु चहलकदमी बदस्तूर जारी रही।

Bharatiya Janata Party
shatrughan gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned