दुनिया का सर्वश्रेष्ठ अर्थनीति, अर्थशास्त्र चाणक्य ने दिया - हृदय नारायण दीक्षित

Nitin Srivastava

Publish: Oct, 13 2017 07:38:56 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
दुनिया का सर्वश्रेष्ठ अर्थनीति, अर्थशास्त्र चाणक्य ने दिया - हृदय नारायण दीक्षित

मनोज जोशी व उनकी टीम द्वारा चाणक्य नाटक का मंचन।

उन्नाव. हम बहुत सौभाग्यशाली हैं कि भारत की धरती पर चाणक्य जैसा कोटिल्य जैसा व्यक्ति पैदा हुआ है। दुनिया के अन्य देशों में पैदा हुए उस कालखंड से श्रेष्ठ विद्वान भारत ने दिए हैं। चाणक्य का, कौटिल्य का लिखा अर्थशास्त्र दुनिया के किसी भी उस समय के काल खंड के अर्थशास्त्र, अर्थ नीति की तुलना में श्रेष्ठ है। आज चाणक्य नाटक के माध्यम से आज हम ढाई हजार साल पूर्व कालखंड की यात्रा करेंगे। जिंदगी में बहुत नाटक देखे हैं। परंतु चाणक्य नाटक अभूतपूर्व था। जिसे देख कर वह अनुभव मिला जो अंग्रेजी व हिंदी के अन्य नाटकों को देखकर नहीं मिला। उसी दिन मेरे मन में भाव आया कि चाणक्य नाटक का मंचन उन्नाव में अवश्य होना चाहिए। इस विषय में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और नरेंद्र भदोरिया से बातचीत हुई। उसके बाद आज यह मौका आया है कि चाणक्य नाटक का मंचन उन्नाव में किया जा रहा है। स्थानीय इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने उक्त विचार व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि माना जाता है कि हम भारत के वासियों ने अपने इतिहास को सुव्यवस्थित नहीं किया है। बहुत कम लोग होते हैं जो इतिहास की धारा, इतिहास की गति को रोक पाने या उसके सामने सीना तान कर खड़े हो जाते हैं। इतिहास हम लोगों को सूत्र देने वाला होता है। उन्होंने कहा कि चाणक्य नाटक के मंचन के दौरान संवादों को बोला जाना जाने में एक अलग प्रकार की रसायनिक केमिस्ट्री दिखाई पड़ती है। भारत में नाटक का प्राचीन इतिहास है। वैदिक काल में तमाम प्रकार के नाटक होते थे। इस मौके पर उन्होंने भारत मुनि को याद किया।


मनोज जोशी द्वारा चाणक्य नाटक का मंचन अद्वितीय

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने कहा कि योगी आदित्यनाथ के शहर में चाणक्य नाटक के मंचन को देखने के लिए विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित गए थे। नाटक को देख कर उन्होंने उस कार्यक्रम की गरिमामय प्रस्तुति के विषय में मुझे बताया कि किस प्रकार चाणक्य ने चंद्रगुप्त की छोटी-छोटी व्यवस्था को ठीक करने छोटे छोटे राज्यों व साम्राज्यों को एक अतूट राज्य बनाने का काम किया था। पूरन नगर स्थित इंटर कॉलेज में आयोजित चाणक्य नाटक के मंचन के दौरान बांगरमऊ विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने कहा कि जनपद में कार्यक्रम को कराने के लिए आपस में चर्चा की गई। कार्यक्रम को उन्नाव में कराने के लिए स्थान के चयन करने की आवश्यकता महसूस हुई। पूरन नगर स्थित विद्यालय में स्थान का चयन कर लिया गया।

 

इस मौके पर कृषि मंत्री सहित अन्य विधायक मौजूद

कुलदीप सिंह सेंगर ने इस मौके पर उन्होंने दिव्य सेवा संस्थान के कार्यों का उल्लेख करते हुए कहा कि संस्थान द्वारा कुष्ठ रोगियों का बड़े पैमाने पर देखभाल किया जाता है। इस संस्थान से राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी जुड़े हैं। मनोज जोशी एवं उनकी टीम द्वारा प्रस्तुत चाणक्य नाटक अपने आप में अद्वितीय है। जो उन्नाव के लोगों को एक संदेश देने का काम करेगी। उन्होने कहा कि वह किसी भी दल में दबकर समझोता करने का काम नहीं करते। इस मौके पर कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, जनपद प्रभारी व समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री, स्वतंत्र प्रभार मंत्री महेंद्र सिंह, राज बहादुर सिंह चंदेल, विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, विधायक पंकज गुप्ता, विधायक ब्रजेश रावत नरेंद्र भदोरिया वेणु रंजन आदि उपस्थित थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned