झारखंड शासन द्वारा साक्षी महाराज को होम क्वॉरेंटाइन करने पर मचा हंगामा

- झारखंड के गिरिडीह जिले में भाजपा सांसद साक्षी महाराज गुरु मां से मिलने गए थे

- भाजपा मीडिया प्रभारी ने कहा कि कांग्रेस की सह पर यह हो रहा

By: Narendra Awasthi

Published: 30 Aug 2020, 09:45 PM IST

उन्नाव. एक बार फिर से सांसद साक्षी महाराज चर्चा में आ गए। लेकिन झारखंड राज्य के गिरिडीह से आई है। जहां पर जिला प्रशासन ने उन्हें क्वॉरेंटाइन कर दिया है। साक्षी महाराज के क्वॉरेंटाइन होने की खबर से गिरिडीह भाजपा कार्यकारिणी में आक्रोश है। उन्होंने उपायुक्तत को लेटर जारी कर सांसद साक्षी महाराज को तत्काल क्वॉरेंटाइन से मुक्त करने की मांग की। इस बीच पत्रकारों से बातचीत करते हुए क्षेत्रीय सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि झारखंड हिंदुस्तान में है, हिंदुस्तान के बाहर नहीं। जिस तरह का व्यवहार झारखंड राज्य के गिरिडीह में किया गया है। वह आपत्तिजनक है। उन्होंने कहा कि अपने आने की जानकारी प्रोटोकॉल के तहत जिला प्रशासन को भेज दिया था। परमिशन मिलने के बाद ही यहां आए हैं। जिला मीडिया प्रभारी ने बताया मुख्यमंत्री केेे हस्तक्षेप के सांसद को मुक्त किया गया।

 

जिला प्रशासन की तरफ से कोई लेटर नहीं

उन्होंने जिला प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि राहुल सिंहा आईएएस अधिकारी है, आईएएस अधिकारी ही रहेंगे। कानून का पालन करना चाहिए। गिरिडीह में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें किसी प्रकार का भी जिलाधिकारी की तरफ से लेटर जारी नहीं किया गया है। मैं राजनीतिक यात्रा पर नहीं आया हूं। अपनी बीमार गुरु मां से मिलने के लिए आश्रम में आया हूं। साक्षी महाराज ने कहा कि डीएम साहब पार्लियामेंट जाने से नहीं रोक सकते, स्टैंडिंग कमिटी में भाग लेने से नहीं रोक सकते। मैं वहां जाकर जिला अधिकारी के खिलाफ लेटर दूंगा। जहां इन्हें बुलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि स्टैंडिंग कमिटी की मीटिंग होने जा रही है। जिसमें एक महत्वपूर्ण बिल आने वाला है। इस संबंध में बातचीत करने पर जिले के भाजपा मीडिया प्रभारी विजय द्विवेदी ने बताया कि मुख्यमंत्री के हस्तक्षेप के बाद सांसद साक्षी महाराज को छोड़ दिया गया है

गिरिडीह भाजपा जिला कार्यकारिणी में भी जारी किया लेटर

सांसद साक्षी महाराज को गलत तरीके से गिरिडीह में क्वॉरेंटाइन करने का आरोप लगाते हुए भारतीय जनता पार्टी गिरिडीह जिलाध्यक्ष जिला प्रशासन को चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि साक्षी महाराज को दिल्ली जाने के लिए क्वॉरेंटाइन से छोड़ा जाए अन्यथा की स्थिति में धरना प्रदर्शन करने को मजबूर है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned