प्रवासी श्रमिकों ने कुछ ऐसा कर दिखाया कि प्रधानमंत्री सोचने को मजबूर, गरीबों के लिए दे दी बहुत बड़ी योजना

- प्रधानमंत्री की स्वीकारोक्ति - गरीब कल्याण रोजगार अभियान की प्रेरणा उन्नाव से मिली

- प्रवासी श्रमिकों ने जर्जर भवन का किया कायाकल्प बन गए प्रेरणा स्रोत

By: Narendra Awasthi

Published: 21 Jun 2020, 09:47 AM IST

उन्नाव. कोविड-19 महामारी के दौरान कई चीजें निकल कर सामने आ रहे हैं जो लोगों के लिए प्रेरणा स्रोत बन कर उभर रही हैं। इसी प्रकार का एक घटनाक्रम जनपद के दूरदराज ग्रामीण क्षेत्र से निकलकर सामने आई जहां क्वॉरेंटाइन किए गए प्रवासी श्रमिकों ने कुछ ऐसा कर दिखाया। जिससे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी सोचने को मंजूर हुए और उन्होंने देश को एक बहुत बड़ी योजना दे दी। इस बात की जानकारी स्वयं प्रधानमंत्री ने देते हुए कहा कि ग्रामीण कल्याण रोजगार अभियान की प्रेरणा उन्हें उन्नाव से मिली।

कोविड-19 महामारी में निकल रहे तमाम अवसर

गौरतलब है कोविड-19 महामारी के बीच बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों को हसनगंज विकासखंड के गांव नारायणपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय में रोका गया था। हैदराबाद से आए कमलेश, विनोद, अरुण, राजेश वॉल पेंटिंग के अच्छे कारीगर है, ने विद्यालय की जर्जर स्थिति को देखा तो उनसे रहा नहीं गया। उन्होंने ग्राम पंचायत विकास अधिकारी व खंड विकास अधिकारी से संपर्क कर विद्यालय के सुंदरीकरण की इच्छा व्यक्त की। जिसके बाद विद्यालय के कायाकल्प का कार्य शुरू हुआ और 14 दिनों के अंदर प्रवासी श्रमिकों की दक्षता प्राथमिक विद्यालयों के दीवारों पर उभरने लगी।

प्रधानमंत्री ने सीक्रेट जग जाहिर किया

प्रवासी श्रमिकों का यह कार्य प्रधानमंत्री के संज्ञान में आया और उन्होंने इसे प्रेरणा के रूप में लेते हुए गरीब कल्याण रोजगार अभियान की शुरुआत की। अपने मुख्य भाषण में प्रधानमंत्री ने उन्नाव के गांव नारायणपुर के प्राथमिक विद्यालय का भी जिक्र किया। जिसके बाद जिला प्रशासन प्राथमिक विद्यालय पहुंचा और वहां देश के लिए प्रेरणा स्रोत बने प्रवासी श्रमिकों से बातचीत की और उन्हें सम्मानित किया। जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने कहा कि उन्नाव के लिए यह गौरव की बात है। प्रधानमंत्री ने गरीब कल्याण रोजगार अभियान के शुभारंभ के अवसर पर उन्नाव का जिक्र किया और प्राथमिक विद्यालय नारायणपुर में प्रवासी श्रमिकों द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की व इसे प्रेरणा स्रोत बताएं। उन्होंने कहा कि अन्य प्रवासी श्रमिकों को उनकी योग्यता के अनुसार रोजगार उपलब्ध कराने का प्रयास जारी है। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ. राजेश कुमार प्रजापति, अपर जिला अधिकारी राकेश सिंह के साथ अन्य अधिकारीगण मौजूद थे।

PM Narendra Modi Prime Minister Narendra Modi
Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned