script2.28 लाख भवनों से डोर टू डोर टैक्स वसूलेगा निगम, दस फीसदी मिलेगी छूट, नहीं लगेगा चक्रवृद्धि ब्याज | Patrika News
यूपी न्यूज

2.28 लाख भवनों से डोर टू डोर टैक्स वसूलेगा निगम, दस फीसदी मिलेगी छूट, नहीं लगेगा चक्रवृद्धि ब्याज

जीआईएस सर्वे में नगर निगम ने 2.28 लाख भवनों को चिन्हित किया है। अभी तक 30 हजार लोग नगर निगम को टैक्स दे रहे थे। मेयर डा. उमेश गौतम और नगर आयुक्त निधि गुप्ता वत्स ने बताया कि अब लोगों को टैक्स जमा करने के लिए निगम के चक्कर लगाने नहीं पड़ेंगे।

बरेलीJun 12, 2024 / 08:52 pm

Avanish Pandey

बरेली। जीआईएस सर्वे में नगर निगम ने 2.28 लाख भवनों को चिन्हित किया है। अभी तक 30 हजार लोग नगर निगम को टैक्स दे रहे थे। मेयर डा. उमेश गौतम और नगर आयुक्त निधि गुप्ता वत्स ने बताया कि अब लोगों को टैक्स जमा करने के लिए निगम के चक्कर लगाने नहीं पड़ेंगे। बैंक ऑफ बड़ौदा के 150 सेंटर और 80 पार्षदों के कैंप कार्यालय में पीओएस मशीनों के जरिए डिजिटल बिल जमा किए जायेंगे। टैक्स बिल में अभी तक चक्रवृद्धि ब्याज लग रहा था जो अब नहीं लगेगा।
जून से जुलाई तक मिलेगी दस फीसदी की छूट

बुधवार को मेयर कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस बताया कि प्रापर्टी टैक्स मैनेजमेंट सिस्टम (पीटीएमएस) के माध्यम से एक जून से बिल काटना शुरू कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि 82,897 नए भवन टैक्स के दायरे में हैं। ऐसे में सभी को बिल पहुंचाने के लिए निगम के पास पहले 20 लोग ही थे। करदाता बढ़ने पर आउटसोर्स और स्वंय सहायता समूह व पार्षदों की मदद भी ली जा रही है। टैक्स जमा करने के लिए लाइनों में भी खड़ा नहीं होना पड़ेगा।, इसके लिए बैंक ऑफ बड़ौदा से करार हुआ है। बैंक निगम को 100 पॉस मशीन दे रहा है। उन्हें 80 वार्डों में रखा जायेगा। इसके अलावा 150 से अधिक बैंक के ग्राहक सेवा केंद्रों पर भी बिल जमा होंगे। नगर निगम ने नई व्यवस्था के तहत जून से जुलाई तक 10 प्रतिशत की छूट करंट टैक्स पर मिलेगी। जबकि अगस्त, सितंबर में 7.5 प्रतिशत और अक्टूबर, नवंबर माह में 5 प्रतिशत की छूट मिलेगी।
ऑनलाइन टैक्स जमा करने वालों को एक प्रतिशत की अतिरिक्त छूट मिलेगी।
चक्रवृद्धि ब्याज नहीं लगेगा, 45 करोड़ टैक्स वसूली का लक्ष्य
मेयर डॉ. उमेश गौतम ने कहा कि अब करदाताओं को चक्रवृद्धि ब्याज नहीं देना होगा। अभी तक 1.45 लाख करदाताओं में से 30 हजार लोग टैक्स दे रहे थे। अब 82897 नये लोगों को शामिल कर लिया गया है। सभी से नियमानुसार टैक्स दें तो निगम की 45 करोड़ की आय बढ़ जायेगी। इससे हम कालोनियों में सड़कों और नालों का निर्माण कर पायेंगे।
निगम के सॉफ्टवेयर की खूबियां

  • भवन कितने क्षेत्रफल में है, प्रापर्टी का विवरण, नोटिस में देखना, जनता के प्रति पारदर्शिता
  • कैश, ऑनलाइन,चैक, डीडी, मशीन के जरिये डिजिटल टैक्स जमा होगा
  • नगर निगम क्षेत्र में सभी लोगों के घरों का फोटो सॉफ्टवेयर में अपलोड हो गया है।
    -पुरानी आईडी से भी बिल देख सकेंगे, घर बैठे घर बैठे आपत्ति कर सकेंगे, 24 घंटे में निस्तारण होगा।
    -क्यूआर कोड के जरिये मोबाइल से भी बिल जमा हो सकेगा।
    -ptms-citizen.nagarnigambareilly.com

Hindi News/ UP News / 2.28 लाख भवनों से डोर टू डोर टैक्स वसूलेगा निगम, दस फीसदी मिलेगी छूट, नहीं लगेगा चक्रवृद्धि ब्याज

ट्रेंडिंग वीडियो