scriptइत्र की नगरी में हेड कांस्टेबल बनाया गया चौकी इंचार्ज, जानें क्या कहते हैं एसपी | perfume city: head constable made chauki in-charge, SP says | Patrika News
यूपी न्यूज

इत्र की नगरी में हेड कांस्टेबल बनाया गया चौकी इंचार्ज, जानें क्या कहते हैं एसपी

इत्र की नगरी में पुलिस अधीक्षक ने हेड कांस्टेबल को चौकी इंचार्ज बनाकर सभी को चौंका दिया। इसके साथ ही उन्होंने दो आरक्षी को भी नगद पुरस्कार प्रदान किए। ईमानदारी से काम करने वालों के लिए यह प्रेरणा स्रोत है।

कन्नौजJul 07, 2024 / 03:04 pm

Narendra Awasthi

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में हेड कांस्टेबल को चौकी इंचार्ज बनाया गया है।‌ जिसके पास ना तो स्टार है और ना ही कोई दरोगा, इंस्पेक्टर के पद पर फिर भी चौकी का इंचार्ज बना दिया गया है जो पुलिस महात्मा के साथ लोगों के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है। ‌ इस संबंध में एसपी ने बताया कि हेड कांस्टेबल ने अपनी मेहनत और ईमानदारी से काम किया है इसके लिए उन्हें मिले अधिकारों का प्रयोग करते हुए चौकी इंचार्ज बनाया गया है हेड कांस्टेबल ने चौकी इंचार्ज बनाए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त की। इसके अतिरिक्त सारणीय कार्य करने पर दो आरक्षियों को एसपी ने नगद पुरस्कार देकर सम्मानित किया है। ‌
यह भी पढ़ें

सांसद साक्षी महाराज का विवादित बयान, बोले- ‘4 बीवी 40 बच्चे’ नहीं चलेगा, बनेगा जनसंख्या नियंत्रण कानून

एसपी अमित आनंद ने हेड कांस्टेबल सुधीर सिंह चौहान निवासी अलीगंज एटा को चौकी इंचार्ज मनाया गया है। ट्रांसफर लिस्ट में सुधीर सिंह चौहान के नाम के आगे चौकी इंचार्ज लिखा था। यह देखकर पुलिस महकमा में लोग हतप्रभ रह गए। 2011 बैच के सुधीर सिंह चौहान को उनकी ईमानदारी और मेहनत का फल मिला। इत्र की नगरी कन्नौज की यह खबर पुलिस महकमे के लिए काफी महत्वपूर्ण है। जिसमें हेड कांस्टेबल को बिना प्रमोशन के प्रोन्नति दे दी गई है।

नियमों के अनुसार बनाया गया चौकी इंचार्ज

एसपी अमित आनंद ने कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल के तबादले किए थे। जिसकी सूची जारी की गई। सुधीर सिंह चौहान को चौकी इंचार्ज बनाए जाने पर लोगों ने खुशी व्यक्त किया। इस संबंध में एसपी अमित आनंद ने कहा कि 58 पुलिस रेगुलेशन के अंतर्गत सुधीर सिंह चौहान को हेड कांस्टेबल से चौकी इंचार्ज मनाया गया है।

दो भाई आर्मी में

सुधीर सिंह चौहान के विषय में बताया गया कि काफी विनम्र है और ईमानदारी के साथ अपने अपना कार्य करते हैं। 2011 में उन्होंने पुलिस ज्वाइन किया था 2015 में कन्नौज में तैनाती मिली थी जिन्होंने तिर्वा और गुरसहायगंज थाने में अपनी सेवाएं दी।

कई मामलों में उल्लेखनीय कार्य

इस दौरान पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर कई घटनाओं में उल्लेखनीय काम किया। जिससे अधिकारियों के विश्वासपात्र बन गए। गुरसहायगंज क्षेत्र में हुई बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। बेगुनाह की जगह मुख्य आरोपी जेल भेजने का काम किया था। सुधीर सिंह चार भाई हैं।‌ दो भाई संजय सिंह और अनुज सिंह आर्मी में हैं।

दो आरक्षण को किया गया पुरस्कृत

इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक अमित आनंद ने ठठिया थाना में तैनात आरक्षी मनीष और विष्णुगढ़ थाना में तैनात आरक्षी यशवीर को पांच-पांच सौ रुपए नगद पुरस्कार से सम्मानित किया। जिन्होंने अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए सराहनीय कार्य किये‌।

Hindi News/ UP News / इत्र की नगरी में हेड कांस्टेबल बनाया गया चौकी इंचार्ज, जानें क्या कहते हैं एसपी

ट्रेंडिंग वीडियो