scriptयूपी के मेरठ में सिपाही के बेटे की अपहरण के बाद हत्या, 50 लाख की मांगी थी फिरौती | UP Police Constable son murdered after kidnapping in Meerut | Patrika News
यूपी न्यूज

यूपी के मेरठ में सिपाही के बेटे की अपहरण के बाद हत्या, 50 लाख की मांगी थी फिरौती

हत्या के बाद अपहरणकर्ताओं ने बच्चे के गले में गन्ना ठूंस दिया। बेरहमी से की गई हत्या पर ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा।

मेरठJun 09, 2024 / 06:45 pm

Shivmani Tyagi

Meerut Murder

खेत में इकट्ठा ग्रामीण

इंचौली थाना क्षेत्र में सिपाही के सात वर्षीय बेटे की अपहरण के बाद बेरहमी से हत्या कर दी गई। अपहरणकर्ताओं ने चिट्ठी डालकर 50 लाख रुपये की फिरौती मांगी लेकिन अपहरण के कुछ ही देर बाद बच्चे को मार डाला। घर से कुछ ही दूरी पर गन्ने के खेत में बच्चे का शव फेंक दिया। निर्मम ढंग से की गई इस हत्या पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। गुस्साए परिजनों और ग्रामीणों ने शव नहीं उठने दिया। पुलिस ने शक के आधार पर पड़ोसी दंपति और उनकी एक बेटी को हिरासत में लिया है। किसी तरह लोगों को समझाकर-बुझाकर पुलिस शव को उठाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा सकी। पूरे गांव को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

घर में चिट्ठी फेंककर मांगी 50 लाख की रंगदारी

रविवार सुबह इंचौली थाना क्षेत्र के गांव धनपुर से सिपाही गोपाल यादव का सात वर्षीय बेटा पुनित उर्फ कान्हा घर के सामने से खेलते हुए अचानक गायब हो गया। काफी देर तक भी जब बच्चे का कोई पता नहीं चला तो परिवार वाले डर गए। दादा गोपाल यादव ने सहारनपुर में तैनात अपने बेटे हैड कांस्टेबल गोपाल यादव को फोन पर पूरी घटना बताई। इससे पहले कि पुलिस कुछ कर पाती अपहरणकर्ताओं ने बच्चे को मार डाला। गला दबाकर हत्या करने के बाद उसके मुंह में गन्ना ठूंस दिया। इससे पहले सिपाही के घर एक चिट्ठी फेंकी गई जिसमें 50 लाख रुपये की फिरौती भी मांगी गई। जब ग्रामीणों ने खेत में बच्चे के मुंह में गन्ना ठुसा हुआ देखा तो उनका गुस्सा फूट पड़ा। गुस्साए ग्रामीणों ने हंगामा कर दिया।

सहारनपुर में तैनात हैं बच्चे के पिता सिपाही

मेरठ के धनपुर के रहने वाले गोपाल यादव यूपी पुलिस में हैं और इन दिनों सहारनपुर में तैनात हैं। रविवार सुबह उन्हे खबर मिली कि घर के बाहर खेल रहा उनका सात वर्षीय अचानक लापता हो गया। इसके बाद तलाश शुरू की गई तो कुछ ही देर में फिरौती का एक लैटर मिल गया। इसके बाद मामला और गंभीर होता दिखा। इससे पहले कि पुलिस कुछ कर पाती सिपाही के घर के पास चरण सिंह के गन्ने के खेत में बच्चे का शव पड़ा मिला गया। बच्चे के शरीर पर चोट के निशान थे और गला घोटकर हत्या करने के बाद हत्यारों ने उसके मुंह में गन्ना ठूंस दिया।

तो रंजिश में की गई हत्या!

सिपाही के पिता जयभगवान ने आशंका जताई है कि उनके पोते की रंजिशन हत्या की गई है। अगर अपहरणकर्ताओं को फिरौती मांगनी होती तो जबाव का इंतजार करते। बेरहमी से पोते को मौत के घाट उतारा गया है। इस मामले में पुलिस ने भी पड़ोसी दंपति समेत उनकी बेटी को हिरासत में लिया है। पुलिस का कहना है कि परिजनों की जानकारी और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर मामले की जांच को आगे बढ़ाया जाएगा। आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Hindi News/ UP News / यूपी के मेरठ में सिपाही के बेटे की अपहरण के बाद हत्या, 50 लाख की मांगी थी फिरौती

ट्रेंडिंग वीडियो