अगस्त क्रांति दिवस पर वाराणसी को हरित क्षेत्र के रूप में किया जाएगा विकसित, लगेंगे इतने पेड़

अगस्त क्रांति दिवस पर वाराणसी को हरित क्षेत्र के रूप में किया जाएगा विकसित, लगेंगे इतने पेड़
पौध रोपण की प्रतीकात्मक फोटो

Ajay Chaturvedi | Updated: 08 Aug 2019, 02:20:41 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी को हरित क्षेत्र के रूप में विकसित करने के लिए डीएम सुरेंद्र सिंह ने की है पहल
अधिकारी से लेकर जनप्रतिनिधि, छात्र से लेकर अभिभावक तक होंगे शामिल

वाराणसी. धर्म नगरी काशी कभी आनंद कानन के रूप में जानी जाती रही। चारों तरफ हरियाली ही हरियाली थी। छायादार और फलदार वृक्षों की भरमार थी। ऐसे में वातावरण भी शुद्ध रहा। लेकिन विकास की आंधी में सबकुछ मिट गया। पेट कट गए। बगीचे खत्म हो गए। नतीजा वाराणसी की गिनती दुनिया के टॉप 5 सबसे प्रदूषित शहरों में होने लगी। आबोहवा ऐसी कि दम घुटने लगा। तमाम बीमारियों ने घर कर लिया। ऐसे में इस शहर में फिर से हरियाली लाने का बीड़ा उठाया है जिले के कलेक्टर ने। डीएम ने पहले मातहतों को इसके बारे में सख्त हिदायत दी। फिर मीडिया को बताया कि अगस्त क्रांति दिवस, 9 अगस्त को शुक्रवार से पूरे जिले में पौध रोपण का महाअभियान चलेगा। इस दौरान 24 लाख से ज्यादा पौधे लगाए जाएंगें। इस अभियान में जनप्रतिनिधियों की सहभागिता भी सुनिश्चित होगी।

डीएम सुरेंद्र सिंह ने मीडिया को बताया कि पौधरोपण अभियान के लिए सभी 8 ब्लाकों के बीडीओ, ग्रामीण और 5 वरिष्ठ अधिकारी तथा शहरी क्षेत्र के लिए जोनल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। 9 अगस्त, अगस्त क्रांति दिवस की सुबह 6 बजे से ही गांवों में प्रधान, सेक्रेटरी, किसान सहित सभी लोग पौध रोपण महाअभियान में जुट जाएंगे।

डीएम सुरेंद्र सिंह

डीएम ने बताया कि पौध रोपण महाअभियान के तहत इस तरह से गांव से लेकर शहर तक पौधे लगाए जाएंगे...

डीएम के दिशा निर्देश

-स्कूलों में प्रार्थना के समय बच्चों और माता पिता को वृक्षारोपण का हरित संकल्प दिलाया जाएगा
-कालेजों और ग्राम पंचायतों में भी हरित संकल्प दिलाया जाएगा
-9 अगस्त के बाद भी सभी को अपने रोपे पौधे का खयाल रखना होगा
-हर गांव में उपयुक्त स्थान पर लोग इकट्ठा होंगें और पौधे लगा कर उनकी सुरक्षा की सौगंध लेंगे
-शपथ की वीडियो बनेगी साथ ही फोटोग्राफी भी होगी
-शपथ के बाद 8 से 8.30 बजे तक हरियाली फेरी लगाई जाएगी
-9 बजे से पौधरोपण के रक्षा वचन के साथ सेल्फी भी ली जाएगी
-पौधरोपण के बाद पूजा अर्चना के साथ जल दिया जाएगा
-सभी अधिकारी भी इस महाअभियान में शामिल हो कर इसे सफल बनाएंगे
-इसी दिन जल संचयन के पूरे प्रोजेक्ट्स को लोकार्पित किया जाएगा, नए कार्य शुरु होंगे
-अच्छी फोटो खींचने वालों और बेहतर पौध रोपण करने वालो को पुरस्कृत किया जाएगा
-हर गांव में पंचवटी की तर्ज़ पर गांधी उपवन विकसित होगा
--अभियान आगे भी जारी रहेगा

ब्लॉकवार पौधरोपण कार्यक्रम

-सेवापुरी ब्लाक के ग्राम राखी नेवादा में 5500 पौधे
-आराजी लाइन के दयापुर में 2400 पौधे
-काशी विद्यापीठ के छितौनी कोट में 8400 पौधे
-बड़ागांव के बलरामपुर में 2400 पौधे
-पिंडरा के थाना और गजोखर में 2-2 हजार पौधे
-हरहुआ के दांदूपुर में 1800 पौधे
-चिरईगांव के मुस्तफाबाद में 3100 पौधे
-चोलापुर के बर्थरा खुर्द में 1200 पौधे

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned