Breakingवाराणसी में गंदा पानी पीने से 28 छात्राएं बीमार

Breakingवाराणसी में गंदा पानी पीने से 28 छात्राएं बीमार
dirty water

मोदी के संसदीय क्षेत्र में छात्रों को पीने के लिए शुद्ध पानी का इंतजाम तक नहीं, पिंडरा इलाके की घटना, परिजनों ने काटा बवाल

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में छात्र-छात्राओं को पीने के लिए शुद्ध पानी भी मयस्सर नहीं है। मंगलवार को पिंडरा इलाके में गंदा पानी पीने से 28 छात्राएं बीमार पड़ गईं। बीमार छात्राओं के परिजनों ने स्कूल परिसर व अस्पताल में जमकर हंगामा किया। स्कूल की प्रधानाचार्य का कहना है कि मामले की जांच कराई जाएगी। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीएम को पत्र लिखेंगे।
जानकारी के अनुसार फूलपुर थाना क्षेत्र के पिंडरा में कस्तूरबा बालिका विद्यालय की छात्राएं दोपहर में भोजन के बाद पानी पी। पानी हलक से नीचे जाते ही छात्राओं में बेचैनी महसूस होने लगी। एक-एककर छात्राएं स्कूल में गिरने लगी। छात्राओं की हालत खराब होते देख स्कूल परिसर में हड़कंप मच गया। छात्राओं को उल्टी-दस्त होने की जानकारी पर परिजनों समेत पूरा गांव स्कूल में जुट गया। समाजवादी एंबुलेंस व अन्य वाहनों की मदद से छात्राओं को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। अस्पताल पहुंचे परिजनों ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। प्रधानाचार्य सपना जायसवाल ने बताया कि स्कूल में पानी की सप्लाई जल निगम से होती है। पानी का नमूना लेकर जांच के लिए भेजा जाएगा। डाक्टरों के मुताबिक सभी छात्राओं की हालत खतरे से बाहर है। अस्पताल में सीमा, रत्ना, सरिता, रूबी, निर्मला, ब्यूटी, आंचल, सुषमा, अराधना समेत 28 छात्राएं हैं। दूषित पानी के चलते छात्राओं के बीमार होने की सूचना पर मुख्यालय से भी कई अधिकारी मौके पर पहुंचे और डाक्टरों को बच्चों के इलाज में किसी प्रकार की कोताही न बरतने के निर्देश दिए। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned