वाराणसी. शौर्य व बलिदान के प्रतीक गोरखा रेजीमेंट २०० साल को हो गया। इस अवसर पर बनारस स्थित ३९ जीटीसी में दो दिवसीय समारोह का आयोजन किया गया। रेजीमेंट के जवानों ने बाइक पर हैरतअंगेज करतब दिखा कर अपनी श्रेष्ठता एक बार फिर साबित की। आर्मी चीफ बिपिन रावत भी इस मौके पर पहुंचे और शहीद हुए जवानों को नमन किया। दो दिवसीय समारोह का शुक्रवार को समापन किया गया है, लेकिन रेजीमेंट के जवानों ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि उनके रहते देश की सुरक्षा पर किसी तरह की आंच नहीं आ सकती है। दो दिवसीय समारोह में ही भारत-पाक युद्ध में शहीद हुए १८ वीर सैनिकों के परिजनों को सम्मानित किया। शहीद के परिजनो ंने कहा कि हमें फक्र है कि वीर सपूतों ने देश के लिए अपनी शहादत दी। आर्मी चीफ बिपिन रावत ने परेड का निरीक्षण किया और ३९ जीटीसी के कार्यक्रम में भाग लिया।
यह भी पढ़े:-कश्मीर में पत्थरबाजी में आयी है कमी, सेना के तेजी से हो रहा आधुनिकीकरण

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned