ओवैसी के करीबी, एआईएमआईएम के बड़े नेता कलीम जामई को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया

ओवैसी के करीबी, एआईएमआईएम के बड़े नेता कलीम जामई को यूपी पुलिस ने गिरफ्तार किया

Ashish Shukla | Publish: Sep, 08 2018 01:00:59 PM (IST) Varanasi, Uttar Pradesh, India

थाने पर पथराव और आगजनी के मामले में फरार चल था जामई

आजमगढ़. एआईएमआईएम के जिलाध्यक्ष कलीम जामई को आखिरकार यूपी की पुलिल ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर ही लिया। तलाशी के दौरान एआईएमआईएम नेता क पास से तमंचा और कारतूस बरामद किया गया। कलीम जामई 28 अप्रैल को सरायमीर थाने में हमलाकर लूटपाट, आगजनी और तोडफ़ोड़ करने के आरोप में फरार चल रहे थे। शुक्रवार की शाम को पुलिस ने जामई को सरायमीर थाना मोड़ से गिरफ्तार कर लिया।

बतादे कि अपनी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष असद्दुदीन ओवैसी की तरह ही काफी दिनों से विवादों में रहने वाले नेता कलीम जामई को पुलिस ने पकड़ लिया। उनके गिरफ्तारी के साथ ही कई राजनीतिक दलों के नेताओं पर दबाव बन गया है जो इस तरह से बयान दिया करते थे कि जामई को बचाने में यूपी सरकार और पुलिस प्रशासन का हाथ है।

बतादें कि अप्रैल महीने में सोशल साइट पर धर्म के विरुद्ध अभद्र टिप्पणी करने वाले आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर एआईएमआईएम के नेता और कार्यकर्ताओं ने बड़ा विरोध दर्ज कराया था। इनकी मांग थी कि आरोपी के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई की जाये। इसी की मांग को लेकर कलीम जामई की अगुवाई में 28 अप्रैल को इनके समर्थक सरायमीर बाजार की दुकानों को जबरन बंद कराते हुए थाने का घेराव कर लिया था। इस दौरान थाने पर पथराव करते हुए भीतर घुसकर समर्थकों ने लूटपाट किया। साथ ही आगजनी भी किया था।

इस दौरान एसडीएम निजामाबाद सहित अन्य लोग घायल हो गए थे। जबकि कई वाहन और थाने के उपकरण आदि क्षतिग्रस्त हो गया। मनबढ़ों ने सरायमीर कस्बे में पुलिस बूथ को फूंक दिया। आंसू गैस और बाई फायरिंग से माहौल पर काबू पाया था। तब से कलीम जामई फरार चल रहा था। जिसके बाद से ही सपा-बसपा के लोग भी इस मुद्दे को लेकर सरकार के खिलाफ माहौल तैयार करने मे जुटे थे। पुलिस पर भी जामई को अंदरूनी बताने का आरोप लग रहा था।

शुक्रवार की शाम को एसओ सरायमीर मनोज सिंह को मुखबिर के जरिए सूचना मिलने पर थाने मोड़ पर स्थित एक दुकान के भीतर बैठे कलीम जामई को गिरफ्तार कर लिया। तलाशी के दौरान उसके पास से एक तमंचा और कारतूस बरामद हुआ। थानाध्यक्ष सरायमीर मनोज सिंह ने बताया कि कलीम अपने ऊपर दर्ज कई मुकदमों में अदालत से स्टे लिया है। जिसकी वजह से गिरफ्तारी नहीं हो पा रही थी। शुक्रवार को तमंचे के साथ पकड़े जाने पर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Ad Block is Banned