स्काॅर्पियो के नंबर प्लेट पर लिखवाया 'अखिलेश यादव’ एसएसपी ने काट दिया चालान थाने भेजवा दी गाड़ी

  • एसएसपी ने रास्ते में गाड़ी रोककर थाने भेजवाई
  • छोटे अक्षरों में लिखा था गाड़ी नंबर, बड़े में अखिलेश यादव

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी. यूपी के वाराणसी में एक व्यक्ति को अपनी कार के नंबर प्लेट पर समाजवादी पार्टी का झंडा और 'अखिलेश यादव' लिखवाना भारी पड़ गया। उसकी स्काॅर्पियो के नंबर प्लेट पर सपा का झंडा और 'अखिलेश यादव' लिखा हुआ देखते ही एसएसपी ने रास्ते में गाड़ी रोककर उसका चालान करने का निर्देश देते हुए गाड़ी को कब्जे में लेकर थाने भेज दिया। कहा जा रहा है कि स्काॅर्पियो वाजिदपुर गांव के किसी मूलचंद लालमन के नाम पर है।

 

वाराणसी के एसएसपी अमित पाठक पिंडरा तहसील में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के लिये जा रहे थे। इसी दौरान जब वह बाबतपुर नहर पुलिया के नजदीक पहुंचे तो उनकी नजर एक स्काॅर्पियो के पीछे पड़ी, जिसके नंबर प्लेट पर गाड़ी का रजिस्ट्रेशन नंबर तो छोटे अक्षरों में लिखा था लेकिन जहां नंबर लिखा होना चाहिये वहां बड़ेेे अक्षरों में लिखा था 'अखिलेश यादव' और रजिस्ट्रेशन नंबर के उपर एक सपा का झंडा भी बना हुआ था। यह देखते ही उन्होंने तत्काल गाड़ी रोकी और उस स्काॅर्पियो को रुकवाकर बड़ागांव थाने भेजवा दिया। थानाध्यक्ष ने मीडिया को बताया कि गाड़ी के कागजात चेक किये गए हैं। इसका नियमानुसार मोटर वेहिकल एक्ट के तहत चालान किया जाएगा।

 

आए दिन पुलिस इस तरह नियमों का उल्लंघन कर गाड़ियों पर लिखने वालों को पकड़ती रहती है। वाराणसी में ही पुलिस ने एक बाइक पकड़ी थी जिस पर लिखा हुआ था 'बुलाती है मगर जाने का नहीं’। पकड़े जाते ही बाइक चालक भाग निकला, पुलिस उसे बुलाती रह गई लेकिन वह नहीं आया। इसके अलावा एक नई बुलेट के नंबर प्लेट पर नंबर के बजाय लिखा था 'आई त लिखाई' और उसमें पटाखा साइलेंसर भी लगा हुआ था। उसे भी पुलिस ने पकड़कर चालान कर दिया। इन मामलों ने खूब सुर्खियां बटोरी थीं।

रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned