दो मौतों के बाद, बीएचयू के आइसोलेशन वार्ड से फिर एक कोरोना मरीज लापता

बीएचयू अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड से फिर एक कोरोना मरीज लापता हो गया है। इसके पहले एक मरीज लापता हुआ था। हंगामा होने के बाद दूसरे दिन परिसर में ही उसकी लाश मिली थी। एक मरीज ने अस्प्ताल की खिड़की से कूदकर खुदकुशी कर ली थी।

वाराणसी. बीएचयू में दो कोरोना मरीजों के कथित सुसाइड का मामला अभी पूरी तरह से ठंडा भी नहीं हो सका है कि यहां के आइसोलेशन वार्ड से एक और मरीज लापता हो गया। बीएचयू अस्पताल प्रशासन ने मरीज के भागने की सूचना स्थानीय लंका थाने को दे दी है। पिछले दिनों मरीज के भागने और फिर परिसर में ही उसकी लाश मिलने के बाद वहां सुरक्षा बढ़ाए जाने का दावा किया गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी दो मरीजों की मौत मामने में बीएचयू में बैठक के दौरान नाराजगी जता चुके हैं।

 

शुक्रवार को प्रयागराज के रहने वाले एक कोरोना मरीज केा बीएचयू के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया था। पर शनिवार का वह लापता हो गया। लंका एसओ के मुताबिक बीएचयू से उन्हें मरीज के भागने की जानकारी दी गई। उसकी तलाश की जा रही हैं हालांकि उन्होंने स्थानीय मीडिया को दिये बयान में किसी लिखित शिकायत मिलने की बात से इनकार किया। बीते नौ अगस्त को बिहार के रहने वाले युवक भागा था।

 

डाफी निवासी युवक के भागने की जानकारी 22 अगस्त को उसके परिजनों को मिली। परिजनों ने अस्पताल पर आरोप लगाते हुए हंगामा किया तो परिसर में ही उसकी लाश मिली। एक अन्य युवक के खिड़की से कूदकर आत्महत्या का मामला भी सामने आया। दोनों घटनाओं के बाद जांच बैठा दी गई और वहां सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी किये जाने का दावा किया गया, लेकिन शनिवार को प्रयागराज के मरीज के भागने की घटना ने उस दावे की असलियत खोलकर रख दी।

Coronavirus Pandemic
रफतउद्दीन फरीद
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned