पांच राज्यों के आये एग्जिट पोल के बाद अनुप्रिया पटेल का बीजेपी गठबंधन को लेकर बड़ा बयान, ऐसे लड़ेंगे लोकसभा चुनाव 2019

पांच राज्यों के आये एग्जिट पोल के बाद अनुप्रिया पटेल का बीजेपी गठबंधन को लेकर बड़ा बयान, ऐसे लड़ेंगे लोकसभा चुनाव 2019

Devesh Singh | Publish: Dec, 08 2018 06:06:27 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

एग्जिट पोल हमेशा सही नहीं होते हैं, 11 दिसम्बर को चुनाव परिणाम आने के बाद किसी भी दल को जश्र मनाना चाहिए

वाराणसी. केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री व अपना दल सांसद अनुप्रिया पटेल ने शनिवार को पीएम नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में बड़ा बयान दिया है। सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत करते हुए मिर्जापुर की सांसद ने कहा कि बीजेपी व अपना दल का गठबंधन जारी रहेगा। दोनों ही दल मिल कर लोकसभा चुनाव 2019 लड़ेंगे।
यह भी पढ़े:-बुलंदशहर घटना के विरोध ने आप ने निकाला जुलूस, कहा बदहाल है यूपी की कानून व्यवस्था

बीजेपी गठबंधन से अन्य सहयोगी दलों के अलग होने के प्रश्र पर अनुप्रिया पटेल ने कहा कि सभी पार्टी का अपना-अपना मत होता है हमारा पहले भी बीजेपी से गठबंधन था और आज भी है आगे भी जारी रहेगा। अपना दल व बीजेपी गठबंधन ने वर्ष 2014 में मिल कर संसदीय चुनाव लड़ा था। यूपी की 80 में से 73 सीट बीजेपी गठबंधन को मिली थी जिमसे से71 बीजेपी व दो अपना दल को मिली थी। यूपी चुनाव 2017 में भी अपना दल व बीजेपी का गठबंधन था। यूपी विधानसभा में बीजेपी गठबंधन ने कुल 325 सीट जीती थी जिसमे से 9 विधायक अपना दल के थे। जनता ने हम लोगों के गठबंधन पर दो बार मुहर लगायी है इसलिए गठबंधन आगे भी जारी रहेगा। पांच राज्यों के एग्जिट पोल में बीजेपी की संभावित हार पर कहा कि अभी चुनाव परिणाम के आने का इंतजार करना चाहिए। एग्जिट पोल हमेशा सही नहीं होते हैं। मेरा मानना है कि जिस तरह से पीएम नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता है और चुनाव हुए राज्यों में जिस तरह से पीएम मोदी ने प्रचार-प्रसार किया है। जनहित योजनाओं को लेकर लोगों का पीएम से जो जुड़ाव है और स्थानीय सरकारों ने जितना विकास किया है उससे पूरी उम्मीद है कि बीजेपी गठबंधन पुरानी सफलता को दोहरायेगा। कांग्रेस के जश्र मनाने के प्रश्र पर कहा कि अभी 11 दिसम्बर को चुनाव परिणाम आने का इंतजार करना चाहिए। उसके बाद ही किसी दल को जश्र मनाना चाहिए। विभिन्न राज्यों में कांग्रेस, बसपा व सपा के अलग-अलग चुनाव लडऩे व यूपी में महागठबंधन बनाने के प्रश्र पर कहा कि यह तो जनता को समझना होगा कि जिस महागठबंधन का ढिढ़ोरा पीटा जा रहा है वह वास्तव में है कि नहीं।
यह भी पढ़े:-जिन जगहों पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया चुनाव प्रचार, अधिकांश जगह घट गया मतदान प्रतिशत

Ad Block is Banned