नागरिक सत्याग्रहियों की गिरफ्तारी का मामला पहुंचा मानवाधिकार आयोग

-वाराणसी सामाजिक संस्था मानवाधिकार जननिगरानी समिति ने भेजी रिपोर्ट

वाराणसी. नागरिक सत्याग्रह यात्रा के साथियों की गिरफ्तारी का मामला अब तूल पकड़ने लगा है। यह प्रकरण अब मानवाधिकार आयोग पहुंच गया है। आयोग से इस प्रकरण में अविलंब हस्तक्षेप करते हुए सत्याग्रहियों की रिहाई के लिए निर्देश जारी करने की मांग की गई है।

बता दें कि 2 फरवरी को गोरखपुर के चौरीचौरा से निकली नागरिक सत्याग्रह यात्रा के साथियों को 11 फरवरी को गाजीपुर में गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार 10 सत्याग्रही जेल में ही भूख हड़ताल पर हैं। उन्होंने शुक्रवार को आम जन के नाम जेल से खुला पत्र जारी किया था।

अब इस मामले को संज्ञान लेते हुए मानवाधिकार जन निगरानी समिति ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग नई दिल्ली से इसकी शिकायत की है। समिति के संयोजक लेनिन रघुवंशी ने आयोग से मांग की है कि इस मामले में अविलंब हस्तक्षेप करते हुए गिरफ्तार सत्याग्रहियों की रिहाई के लिए दिशानिर्देश जारी करे।

लेनिन रघुवंशी और बेरोज़गार युवा अधिकार संघ के राष्ट्रीय संयोजक कार्तिकेय शुक्ला ने सत्याग्रहियों की गिरफ़्तारी की निंदा की है और कहा कि यह हमारे संवैधानिक अधिकार के खिलाफ़ है।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned