OMG नीली बत्ती लगी गाड़ी पर ही कर दिया हाथ साफ 

OMG नीली बत्ती लगी गाड़ी पर ही कर दिया हाथ साफ 
car theft

प्रतापगढ़ के एआरटीओ ड्यूटी के बाद अपनी गाड़ी से आए थे बनारस

वाराणसी. बनारसी ठग तो पूरी दुनिया में मशहूर हैं लेकिन अब काशी के चोर ऐसे-ऐसे कारनामों को अंजाम दे रहे हैं कि पुलिस भी चकरा गई है। बड़े अपराधी वाराणसी पुलिस को वैसे ही परेशान कर रखे हैं ऊपर से चोरी की लगातार वारदातों ने स्थानीय पुलिस की रात्रि गश्त व पुलिसिंग पर भी सवाल खड़े कर दिए हैं। 

वाराणसी पुलिस का चोरों के भीतर कितना खौफ है आप अंदाजा लगा सकते हैं क्योंकि चोरों ने पुलिसिंग का खुली चुनौती देते हुए प्रतापगढ़ के एआरटीओ की नीली बत्ती लगी कार पर ही हाथ साफ कर दिया। चोरी की घटना की जानकारी सोमवार को हुई जब एआरटीओ जागे। 

बताते हैं कि प्रतापगढ़ में तैनात एआरटीओ विजय प्रकाश का परिवार वाराणसी में लंका थाना क्षेत्र स्थित शिव प्रसाद गुप्त कालोनी में रहता है। रविवार होने के कारण विजय प्रकाश अपनी नीली बत्ती लगी कार यूपी 65 एल 7534 से वाराणसी आए थे परिजनों के पास। कार कालोनी में ही खड़ी थी। मौका पाकर देर रात चोरों ने गाड़ी लेकर फुर्र हो गए। चोरी की जानकारी बुधवार सुबह हुई जब एआरटीओ का परिवार उठा। 

नीली बत्ती लगी कार चोरी की सूचना पूरे दिन इलाके में चर्चा का विषय बनी रही। क्षेत्रीय लोगों का कहना था कि जब सरकारी अधिकारियों की नीली बत्ती लगी कार पर ही चोर उड़ा दे रहे हैं तो फिर आम लोगों के वाहनों की सुरक्षा तो राम भरोसे ही है। क्षेत्रीय लोगों का आरोप था कि कालोनियों में पुलिस की गश्त नहीं होती है जिसके चलते वाराणसी में चेन स्नेचिंग व चोरी की वारदातें लगातार बढ़ती जा रही है। 

सरकारी आंकड़ों पर यकीन माने तो इस साल बीते सात महीनों में यानि जनवरी से लेकर जुलाई तक साढ़े तीन सौ अधिक वाहनों की चोरी हो चुकी है। जबकि चोरी की वारदतों के रिकार्ड पर नजर डालेंगे तो यह आंकड़ा पांच सौ के ऊपर पहुंच जाएगा। महज सात महीनों में जब वाहन व घरों की चोरी का यह हाल है तो फिर बाकि के पांच महीनों में यह आंकड़ा पुलिस के लिए शर्मसार करने वाला होगा। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned