पति से बात करने पर काले कोट वालों ने उठाया ये गलत कदम

पति से बात करने पर काले कोट वालों ने उठाया ये गलत कदम
assaulting women in public palce

सैकड़ों की मौजूदगी में महिला से की मारपीट, पति को लेकर चले गए

वाराणसी. वो अपने पति से समझौता करना चाहती थी। कई वर्षों से पति से अलग रहते हुए अब वह समझौता करना चाहती थी लेकिन बीच में दीवार बन गए कानून के रक्षक।  कचहरी परिसर के बाहर जब महिला अपने पति से बात कर रही थी तभी काले कोट पहने दो शख्स पहुंचे। उन्हें लगा कि पति-पत्नी के बीच कहीं आपसी समझौता न हो जाए। पति-पत्नी के बीच वार्ता देख काले कोट वालों ने पहले दोनों को आपस में बातचीत करने से मना कर दिया। महिला ने विरोध जताया तो उसके साथ मारपीट पर उतारू हो गए। सैकड़ों लोगों की भीड़ के सामने काले कोट वालों ने महिला के साथ मारपीट की, लोग तमाशा तो देखते रहे लेकिन कोई भी उस महिला को बचाने के लिए आगे कदम नहीं बढ़ाया। महिला को पीटने के बाद वे उसके पति को लेकर कचहरी में कहीं गुम हो गए। उधर पिटाई से व्यथित महिला कचहरी पुलिस चौकी पहुंची लेकिन वहां उसकी सुनने वाला कोई नहीं था। पुलिस चौकी प्रभारी का कमरा बंद था, कुछ देर बात कुछ पुलिस वाले चौकी पर पहुंचे तब महिला ने अपनी व्यथा सुनाई लेकिन किसी ने उसे इंसाफ दिलाने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। 

शादी के बाद से ही बिगड़ गए थे संबंध
पीडि़त महिला गुडिय़ा विश्वकर्मा ने बताया कि उसकी शादी दस वर्ष पूर्व विनोद विश्वकर्मा से हुई थी। शादी के दो वर्ष उन्हें एक बेटा भी हुआ। शादी के बाद से ही छोटी-छोटी बातों को लेकर पति-पत्नी के बीच झगड़े होते रहे। बाद में दोनों की राहे अलग हो गई। मामला कोर्ट तक पहुंच गया। शनिवार को कोर्ट में मामले में सुनवाई थी।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned