पूर्वांचल की सबसे चर्चित शादी में दिखा यूपी की राजनीति का नया समीकरण

पूर्वांचल की सबसे चर्चित शादी में दिखा यूपी की राजनीति का नया समीकरण
mlc brijesh and ex minister kripashankar singh

बाहुबली एमएलसी बृजेश सिंह की बेटी की शादी में जुटे यूपी-महराष्ट्र के दबंग छवि के क्षत्रन राजनेता

विकास बागी

वाराणसी. पूर्वांचल की राजधानी कही जाने वाली काशी में मंगलवार को  सबसे चर्चित वैवाहिक आयोजन था। तमाम राजनीतिक दलों के साथ ही पुलिस-प्रशासन से लगायत पूर्वांचल के तमाम माफिया गिरोह की नजर इस शादी पर थी। कहना गलत नहीं होगा कि इस शादी के बाद  पूर्वांचल की राजनीति का नया अध्याय शुरू होगा। 
वाराणसी के बाबतपुर इलाके में मंगलवार को माफिया से माननीय बने बाहुबली बृजेश सिंह की बेटी प्रियंका की शादी थी। सुरक्षा के बेहद कड़े इंतजाम के बीच वैवाहिक कार्यक्रम स्थल पर यूपी-महाराष्ट्र से लेकर तमाम राज्यों के दिग्गज या यूं कहें कि दबंग छवि वाले राजनेताओं का जमावड़ा था। शादी के बहाने इन दिग्गजों की मुलाकाम उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2017 में कौन सा गुल खिलाएगी यह देखना होगा।

मंत्री-विधायक की जुटान

बाहुबली बृजेश सिंह की बेटी की शादी का न्यौता मिलने के बाद भी कई दिग्गज शादी समारोह से दूर रहे और अपना आशीर्वाद भिजवाया लेकिन प्रदेश के कई मंत्री-सांसद से लेकर वैवाहिक आयोजन में खुले दिल से शामिल हुए। इनमें प्रमुख नाम महाराष्ट्र के पूर्व गृहराज्य मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कृपाशंकर सिंह, सपा सरकार में मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया, दबंग विधायक विजय मिश्र, अतीक अहमद से लेकर वाराणसी के तमाम जनप्रतिनिधि वैवाहिक कार्यक्रम में शरीक हुए और वर-वधू को आशीर्वाद दिया। बृजेश सिंह व उनके विधायक भतीजे सुशील सिंह ने शादी में शामिल तमाम दिग्गजों का स्वागत किया।

गुरु का न आना सबको खटका

पुलिस फाइल में माफिया से माननीय बने बृजेश सिंह के शरणदाता के रूप में गोंडा के सांसद बृजभूषणशरण सिंह का नाम दर्ज है। सुभाष ठाकुर व बृजेश के आका कहे जाने वाले बृजभूषण शरण सिंह का शादी में शामिल न होना चर्चा का विषय बना रहा। जबकि बीते दिनों सहरानपुर व शाहजहांपुर की जेल में सांसद ने बृजेश सिंह के साथ कई मुलाकातें की थी। हालांकि बृजेश की बेटी की शादी में बृजभूषण शरण सिंह के बेटे प्रतीक भूषण सिंह शामिल थे। 
अतीक-विजय ने सबको चौंकाया

बृजेश सिंह की बेटी की शादी में इलाहाबाद के बाहुबली विधायक अतीक अहमद व भदोही के विजय मिश्र का शामिल होना वाराणसी समेत पूर्वांचल के तमाम दिग्गजों को चौंका गया। अतीक की दोस्ती बृजेश के धुर विरोधी मोख्तार अंसारी से छिपी नहीं है किसी से। उधर विजय मिश्र भी बृजेश परिवार से लगातार दूरी बनाए रखे थे लेकिन शादी में इन दोनों की मौजूदगी से राजनीतिक के नए समीकरण बनते दिखे। 

पूर्वांचल में क्षत्रप राजनीति का नया दौर शुरू

कहना गलत नहीं होगा कि तमाम बंदिशों के बीच जेल में बंद रहते हुए बृजेश सिंह का एमएलसी चुनाव जीतना पूर्वांचल की क्षत्रप राजनीति को नई संजीवनी दे गया है। क्षत्रप राजनीति की नई धुरी बृजेश सिंह बनकर सामने आए हैं। भाजपा को शायद इसका आभास पहले से ही था इसलिए एमएलसी चुनाव के दौरान भाजपा ने बृजेश को वाकओवर दे रखा था। चुनाव में जीत के बाद भी भाजपा के तमाम दिग्गज नेता बृजेश सिंह के संपर्क में लगातार बने हैं। बृजेश सिंह के परिवार ने बीते दिनों विधायक भतीजे सुशील सिंह के नेतृत्व में गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी मुलाकात की थी। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned