scriptBHU started special scholarship scheme for foreign students | BHU अपने विदेशी छात्र-छात्राओं को देने जा रहा है ये खास बड़ी सुविधा, जाने क्या है योजना... | Patrika News

BHU अपने विदेशी छात्र-छात्राओं को देने जा रहा है ये खास बड़ी सुविधा, जाने क्या है योजना...

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय ने विदेशी छात्र-छात्राओं क बड़ी सुविधा देने का फैसला लिया है। इसके तहत विदेशी छात्र-छात्राओं के लिए खास छात्रवृत्ति योजना लागू की गई है। कुलपति प्रो सुधीर जैन का कहना है कि ये बीएचयू को दुनिया के श्रेष्ठ विश्वविद्यालयों की श्रेणी में लाने के प्रयास के तहत पहला कदम है। इस तरह के कई और निर्णय लिए जाएंगे।

वाराणसी

Published: April 11, 2022 11:03:00 am

वाराणसी. शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार की इंस्टिट्यूशन ऑफ एमिनेंस पहल के तहत एलओई (IoE) का दर्जा प्राप्त बनारस हिंदू विश्वविद्यालय विदेशी विद्यार्थियों को प्रोत्साहित व प्रेरित करने के लिए नई शुरूआत कर रहा है। विश्वविद्यालय ने अपने यहां प्रवेश लेने वाले विदेशी छात्रों की संख्या में इज़ाफे के इरादे से नई छात्रवृत्ति योजना आरंभ की है। योजना के अंतर्गत प्रत्येक विदेशी विद्यार्थी को हर महीने 6,000 रुपये छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। इसे संतोषजनक प्रदर्शन के आधार पर हर वर्ष बढ़ाया जाएगा। यदि किसी विद्यार्थी के पास कम राशि वाली कोई छात्रवृत्ति पहले से है, तो वह अंतर पाने का हकदार होगा। विदेशी छात्र-छात्राओं के लिए छात्रवृत्ति योजना को कुलपति प्रो. सुधीर कुमार जैन की अध्यक्षता में इंस्टिट्यूशन ऑफ एमिनेंस, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय की गवर्निंग बॉडी की बैठक में मंज़ूरी दे दी गई। बता दें कि कुछ दिन पहले बीएचयू ने भारतीय विपन्न परिवार के बच्चों को खास छात्रवृत्ति प्रदान करने की सुविधा भी लागू की है।
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय  मुख्य द्वार
बनारस हिंदू विश्वविद्यालय मुख्य द्वार
बीएचयू के कुलपति प्रो सुधीर जैनबीएचयू को दुनिया के शीर्ष विश्वविद्यालयं की श्रेणी में लाने की कवायद

कुलपति प्रो. जैन ने कहा है कि बनारस हिंदू विश्वविद्यालय परिवार के सदस्यों को बीएचयू को विश्व के शीर्ष विश्वविद्यालयों की श्रेणी में लाने की दिशा में परिश्रम करना होगा। ये छात्रवृत्ति योजना इसी लक्ष्य की प्राप्ति के लिए उठाए जा रहे कदमों में से एक है। योजना के प्रभावी व सुचारू क्रियान्वयन एवं निगरानी के लिए विश्वविद्यालय ने तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है। इस योजना के लिए आवेदन इंस्टिट्यूशन ऑफ एमिनेंस प्रकोष्ठ में प्राप्त किये जाएंगे।
बीएचयू में कुल सीटों के 15 प्रतिशत सीटों पर विदेशी छात्रों को मिलता है प्रवेश

ज्ञान, शिक्षा तथा संस्कृति के प्रतीक प्राचीन शहर वाराणसी में स्थित बनारस हिंदू विश्वविद्यालय विश्व भर में अपनी विशिष्ठता के लिए जाना जाता है। विश्वविद्यालय में मानविकी, सामाजिक विज्ञान, चिकित्सा, प्रौद्योगिकी, विज्ञान, कला तथा मंच कला समेत तमाम विषयों में अनेक पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं, जो बीएचयू के नाम सर्वविद्या की राजधानी को सही अर्थों में चरितार्थ करता है। हर वर्ष दुनिया भर से सैकड़ों विदेश छात्र बनारस हिंदू विश्विवद्यालय में प्रवेश लेते हैं, जो यहां कृषि विज्ञान, कला, सामाजिक विज्ञान, मंच कला, दृश्य कला, विधि, वाणिज्य तथा विज्ञान के विषयों में स्नातक, परास्नातक, पीएचडी तथा डिप्लोमा समेत अनेक पाठ्यक्रमों में अध्ययन करते हैं। विश्वविद्यालय में वर्तमान में कुल सीटों के 15 प्रतिशत सीटों पर विदेशी छात्रों को प्रवेश दिया जाता है। विदेशी छात्रों के लिए ये सीटें सुपरनूमररी होती हैं।
40 देशों के 413 छात्र-छात्राएं बीएचयू में अध्ययनरत

फिलहाल बीएचयू में लगभग 40 देशों से 431 विदेशी विद्यार्थी अध्ययन कर रहे हैं। इनमें 261 छात्र तथा 170 छात्राएं हैं, जो अमेरिका, ब्राज़ील, फ्रांस, रूस, आयरलैंड, ऑस्ट्रेलिया, यमन, ईरान, बांग्लादेश, अफग़ानिस्तान, मॉरीशस, श्रीलंका, दक्षिणी कोरिया, थाईलैंड, म्यांमां तथा कंबोडिया समेत कई अन्य देशों से हैं। इस छात्रवृत्ति योजना से बीएचयू में प्रवेश लेने वाले विदेशी विद्यार्थियों की संख्या में वृद्धि होने की उम्मीद है। साथ ही साथ, यह योजना राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 की उस भावना के भी अनुरूप है, जिसमें भारतीय शिक्षण संस्थानों में अधिक विदेशी छात्रों के प्रवेश से भारत की शिक्षा व्यवस्था के अंतर्राष्ट्रीयकरण पर अधिक ज़ोर दिया जाना है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Assam Flood: असम में बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही, स्टेशन डूबे, पानी के बहाव में ट्रेन तक पलटीराजस्थान BJP में सियासी रार तेज: वसुंधरा ने शायरी से साधा निशाना... जिन पत्थरों को हमने दी थीं धड़कनें, वो आज हम पर बरस...कांग्रेस के बाद अब 20 मई को जयपुर में भाजपा की राष्ट्रीय बैठक, ये रहा पूरा कार्यक्रमTRAI के सिल्वर जुबली प्रोग्राम में PM मोदी ने लॉन्च किया 5G टेस्ट बेड, बोले- इससे आएंगे सकारात्मक बदलावपूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिंदबरम के बेटे के घर पर CBI की रेड, कार्ति बोले- कितनी बार हुई छापेमारी, भूल चुका हूं गिनतीक्रिकेट इतिहास के 5 सबसे लंबे गेंदबाज, नंबर 1 की लंबाई है The Great Khali के बराबरकुतुब मीनार और ताजमहल हिंदुओं को सौंपे भारत सरकार, कांग्रेस के एक नेता ने की है यह मांगकोर्ट में ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट पेश होने में संशय, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में एक बजे सुनवाई, 11 बजे एडवोकेट कमिश्नर पहुंचेंगे जिला कोर्ट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.