JNU violence के विरोध में BHU के छात्रों ने नियमों को धता बता कर मेन गेट पर किया प्रदर्शन, जलाया वामपंथ का पुतला

-महिला महा विद्यालय से बीएचयू गेट तक निकाला जुलूस
-बीएचयू प्रशासन ने विरोध प्रदर्शन के लिए तय किया है मधुबन

By: Ajay Chaturvedi

Published: 06 Jan 2020, 05:56 PM IST

वाराणसी. JNU violence के विरोध में BHU में छात्रों ने जलाया वामपंथ का पुतला। मेन गेट को बंद कर किया प्रदर्शन। वो लगातार वामपंथ विरोधी नारे लगा रहे थे। छात्र हाथों में तख्तियां भी लिए थे। बता दें कि बीएचयू प्रशासन ने एक दिन पहले ही परिसर में जहां-तहां धरना-प्रदर्श पर रोक लगाते हुए विरोध प्रदर्शन के लिए मधुबन को निश्चित स्थान तय किया है।

बीेएचयू में विरोध प्रदर्शन करते छात्र

प्रदर्शनकारियों का कहना था कि जेएनयू में वामपंथियों ने छात्रों पर किया। उस जानलेवा हमले के विरोध में सोमवार को काशी हिंदू विश्वविद्यालय के छात्रों ने छात्रनेता डॉ अरुण कुमार चौबे के नेतृत्व में प्रदर्शन कर वामपंथ का पुतला जलाया। बड़ी तादाद में छात्र महिला महाविद्यालय चौराहे से वामपंथ के विरुद्ध नारेबाजी करते हुए हाथों में लिखी हुई तख्तियां लेकर मुख्यद्वार पर पहुंचे। छात्रों के प्रदर्शन के मद्देनजर सुरक्षाकर्मियों और पुलिस ने पहले ही गेट बंद कर दिया था। ऐसे में गेट खोलने को लेकर पुलिस और छात्रों के बीच जमकर धक्कामुक्की भी हुई। यहीं गेट पर ही इन छात्रों ने वामपंथ का प्रतीकात्मक पुतला जलाया।

बीेएचयू में विरोध प्रदर्शन करते छात्र

इस मौके पर छात्रनेता डॉ अरुण कुमार चौबे ने कहा कि निर्दोष छात्रों पर जानलेवा हमला करना नक्सली हिंसा का एजेंडा है। वामपंथी स्वयं हमला करके शैक्षणिक संस्थानों का माहौल खराब करते हैं, यह इनका मुख्य उद्देश्य है। चौबे ने मांग हमले के दोषी छात्रों की तत्काल गिरफ्तारी और इनसे वसूली कर घायल छात्रों को आर्थिक हर्जाना देने की मांग की। साथ ही हमलावरों के तत्काल विश्विद्यालय से निष्कासन और भविष्य में भारत के किसी भी शैक्षणिक संस्थान में इन्हें प्रवेश न देने की भी मांग की। कहा इनके ऊपर कठोर कानूनी कर्रवाई होनी चाहिए। इस पूरे प्रकरण के पीछे शामिल कॉंग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेताओं की तत्काल गिरफ्तारी होनी चाहिए।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned