बीजेपी के विवादित पोस्टर पर काशी में कोहराम, यूपी के चीरहरण पर भड़की सपा

बीजेपी के विवादित पोस्टर पर काशी में कोहराम, यूपी के चीरहरण पर भड़की सपा
bjp controversial poster, sp fire

कृष्ण बने केशव का फूंका पुतला, जगह-जगह विरोध-प्रदर्शन

वाराणसी. भाजपा के विवादित पोस्टर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र बनारस में कोहराम मच गया है। विवादित पोस्टर में मुख्यमंत्री को कौरव के रूप में और द्रौपदी रूप में यूपी के चीरहरण से बौखलाई सपा ने भाजपा पार्टी कार्यालय गुलाबबाग समेत काशी में जगह-जगह बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य का पुतला फंूका। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के बनारस आगमन से पहले विरोध-प्रदर्शन से भाजपाईयों में बेचैनी है।
 पत्रिका पर विवादित पोस्टर से संबंधित समाचार के वायरल होते ही सपाइयों का एक गुट गुलाब बाग सिगरा स्थित भाजपा पार्टी कार्यालय के बाहर पहुंचा और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष केशव मौर्य का पुतला फूंकने के साथ ही जमकर नारेबाजी की। उधर सपा के पूर्व मंत्री मनोज राय धूपचंडी के नेतृत्व में सपाइयों ने जगतगंज इलाके में बीजेपी अध्यक्ष का पुतला और विवादित पोस्टर को आग के हवाले कर दिया। 
पूर्व मंत्री मनोज राय धूपचंडी ने कहा कि भारत माता की जय न बोलने पर लोगों के साथ अभद्र व्यवहार करने वाली भाजपा ने हमारी मातृभूमि यानि उत्तर प्रदेश का अपमान किया है। रामनवमी के दिन भाजपा का यह रूप हैरान करने वाला है। हमने सब बर्दाश्त कर लिया है लेकिन अब केशव को कृष्ण तो मत दिखाओं, मातृभूमि का ऐसा चीरहरण तो न दिखाओ। माना कि चुनाव नजदीक है कि धर्म के नाम पर इतनी ओछी राजनीति बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह सीधे देश का अपमान है। 
 गौरतलब है कि बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद पहली बार नगर आ रहे हैं। उनके स्वागत में भाजपा कार्यकर्ता रुपेश पांडेय ने एक पोस्टर जगह-जगह लगाया है जिसमें कृष्ण के रूप में केशव मौर्य को, द्रौपदी को उत्तर प्रदेश के रूप में और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, आजम खान, मायावती, राहुल गांधी, औवेसी को कौरव के रूप में दिखाया है।

Keshav controversial poster
बनारस में विवादित पोस्टर को लेकर हो रहे विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए भाजपा खेमे में खलबली है। बड़ी वजह यह कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र होने के कारण यहां पर पीएमओ से लेकर भाजपा के सभी बड़े नेताओं की सीधी नजर रहती है। चुनावी मौहाल में यह विवादित पोस्टर आने वाले समय में भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी कर सकता है। 
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned