राहुल गांधी का छलावा है किसानों की कर्ज माफी वाला बयान, सीएम कमलनाथ एमपी को बना देंगे बीमारू राज्य

बीजेपी प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने कांग्रेस पर किया पलटवार, कहा कर्नाटक में जाकर देखे कितना कर्ज माफ हुआ

By: Devesh Singh

Published: 18 Dec 2018, 08:23 PM IST

वाराणसी. सांसद व बीजेपी प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने राहुल गांधी के कर्ज माफी वाले बयान पर पटलवार किया है। मंगलवार को सिगरा स्थित गुलाबबाग कार्यालय में मीडिया से बात करते हुए बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि कर्ज माफी का सच जानना है तो कर्नाटक के किसानों से पता करे। बीजेपी ने बड़ी मेहतन करके मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य की क्षेणी से निकाला था लेकिन जिस तरह कांग्रेस के सीएम कमलनाथ बयान दे रहे हैं उससे साफ हो जाता है कि मध्यप्रदेश फिर बीमारू राज्य बन जायेगा।
यह भी पढ़े:-अब तक की बेस्ट डील है रॉफेल सौदा, राहुल गांधी देश की जनता की आंख में झोक रहे धूल

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि उनके राज्य में लगने वाले उद्योग में70 प्रतिशत स्थानीय लोगों को रोजगार दिया जायेगा। इस सवाल पर बीजेपी प्रवक्ता मीनाक्षी लेखी ने कहा कि यह एक व श्रेष्ठ भारत को जो सपना है यह उसका विरोधी बयान है। उसका कारण है कि भारत एक है। देश का कोई भी अंग कमजोर हो जाये तो दूसरा क्षमतावान राज्य का कत्र्तव्य है कि वह उन राज्यों की मदद करे। कही पर भी गरीबी व विवशता है तो उस राज्य की मदद करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कामगार के बिना उद्योग भी नहीं चल पाता है। बिना कामगार के उद्योग नहीं होगा। उद्योग के बिना राज्य का विकास भी नहीं होता। यह अर्थव्यवस्था का बेसिक विषय है मुझे नहीं पता कि कमलनाथ जी को इस बेसिक विषय की भी जानकारी नहीं। कामगर व उद्योगपति मिल कर किसी अर्थव्यवस्था को मजबूत करते हैं। क्षेत्रवाद की बात करना बहुत ही सर्कींणपूर्ण नजरिया है। एमपी ने बहुत मुश्किल से बीमारू राज्य की श्रेणी में आया है यदि कांग्रेस सरकार की यही नीति रही तो मुझे भरोसा है कि वह राज्य फिर से बीमारू हो जायेगा।
यह भी पढ़े:-बीजेपी के लिए भारी पड़ी ओमप्रकाश राजभर की बगावत, मनाने के लिए बंगला देने की तैयारी

राहुल गांधी के कर्ज माफी वाला बयान छलावा
राहुल गांधी के किसानों के कर्ज माफी करने वह देश भर के किसानों का कर्ज माफ नहीं होने पर पीएम नरेन्द्र मोदी को सोने नहीं देने के बयान पर भी बीजेपी प्रवक्ता ने जवाब दिया। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने कर्ज माफ नहीं किया है। उदाहरण देते हुए कहा कि कर्नाटक चुनाव में सरकार बनने पर कर्ज माफ करने का वायदा किया था। कर्नाटक में जेडीएस व कांग्रेस की सरकार बनते ही वहां के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने कहा कि खजाने में पैसे नहीं है। कर्ज माफ करना संभव नहीं होगा। जिसको कर्ज माफ कराना है वह राहुल गांधी से जाकर पैसे लाये। पंजाब के अंदर कई लाख करोड़ किसानों का कर्ज था और मात्र ७० हजार करोड़ रुपये ही कर्ज माफ किया गया। राफेल की तरह कर्ज माफी की बात कह कर जनता की आंख में धूल झोक रहे हैं। तीन राज्यों के किसानों का कितना कर्जा है इसकी जानकारी नहीं दी जा रही है। कर्जा माफ की जानकारी नहीं दी जा रही है। पीएम नरेन्द्र मोदी सरकार ने किसानों के लिए फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाया है। कर्जा माफी कोई समाधान नहीं है। राहुल गांधी आंखों की धूल झोक रहे हैं। इतना अंहकार में मत आओ क्योंकि तुम्हारी जीत से ज्यादा हमारी हार की चर्चा है।
यह भी पढ़े:-तस्करों पर ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी, रोहनिया पुलिस ने किया 15 लाख की अवैध शराब के साथ चार गिरफ्तार

Devesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned