मोदी के संसदीय क्षेत्र में मोदी का विरोध

मोदी के संसदीय क्षेत्र में मोदी का विरोध
protest in ganga

गंगा में जलपरिवहन के विरोध में उतरा नाविक समाज, रोजी-रोटी छीनने का भय

वाराणसी. भाजपा की महत्वाकांक्षी योजना में शामिल गंगा में जल परिवहन को लेकर विरोध के स्वर उठने लगे हैं। हैरानी की बात यह कि गंगा में जल परिवहन का विरोध प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हो रहा है। निषाद समाज ने सोमवार को गंगा घाट पर प्रदर्शन किया। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी के साथ ही प्रधानमंत्री मोदी के इस निर्णय के विरोध में नाविकों के प्रदर्शन से स्थानीय भाजपाई परेशान हैं। उधर, विरोध प्रदर्शन कर रहे नाविकों का आरोप है कि गंगा में मालवाहक जहाज चलने से नौका संचालन में कठिनाई होगी। हाथों में विभिन्न नारे लिखे तख्तियां लिए निषाद समाज  का कहना है कि पीएम मोदी पहले गंगा को बांधों से मुक्त कराएं, टिहरी से गंगा को आजाद करने के बाद ही गंगा में मालवाहक जहाज उतारने की सोचे केंद्र सरकार। गौरतलब है कि केंद्र सरकार हल्दिया से इलाहाबाद तक गंगा में मालवाहक जहाज उतारने की तैयारी में है। निषाद समाज का कहना है कि पहले से मैली गंगा में जहाज उतरने से प्रदूषण बढ़ेगा।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned