प्रवासी सम्मेलन के लिए सज गयी टेंट सिटी, सुरक्षा के लिए लगाये गये बाउंसर

प्रवासी सम्मेलन के लिए सज गयी टेंट सिटी, सुरक्षा के लिए लगाये गये बाउंसर

Devesh Singh | Publish: Jan, 14 2019 08:06:41 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

एनआरआई को फायर स्ट्रिंग विशर चलाने का सिखया जायेगा गुर

वाराणसी. प्रवासी सम्मेलन के लिए बड़ालापुर के ऐढ़े में टेंट सिटी तैयार हो गयी है। यूपी में पहली बार इतना बड़ा सम्मेलन हो रहा है इसलिए उसकी भव्यता का खास ध्यान रखा जा रहा है। प्रवासी सम्मेलन को लेकर स्थानीय लोगों मे भी बेहद उत्सुकता है। भारी संख्या में लोग टेंट सिटी देखने के लिए पहुंच रहे हैं। ऐसे में वहां रखे समानों की सुरक्षा के लिए बकायदे बाउंसर तैनात किये गये हैं।
यह भी पढ़े:-पहली बार राजा भैया के सामने आ सकते हैं यह बाहुबली, जबरदस्त होगा इनका मुकाबला



टेंट सिटी में महंगे समान लाये गये हैं। टेंट के अंदर बेड, हीटर, गीजर, चेयर, टीवी, फ्रिज आदि की व्यवस्था की गयी है। सारे समान बहुत कीमती है इसलिए निर्माण एजेंसी एलजीएस को इन समानों की सुरक्षा क लिए ५० बाउंसर व इतने ही गार्ड तैनात करने पड़े हैं। बाउंसरों व गार्ड की जिम्मेदारी टेंट व उसके समानों की सुरक्षा करना है। इन लोगों से साफ कह दिया है कि किसी भी हालत में समान गायब या फिर खराब नहीं होना चाहिए। बाउंसर की तैनाती के बाद लोगों को टेंट सिटी में बहुत नजदीक जाने से रोक दिया जा रहा है।
यह भी पढ़े:-शिवपाल यादव की इस रणनीति का अखिलेश यादव व मायावती के पास नहीं होगा जवाब, लगेगा तगड़ा झटका

टेंट सिटी को आग से बचाने के लिए खास इंतजाम
ठंड के मौसम में हीटर, गीजर व ब्लोवर के प्रयोग को देखते हुए टेंट सिटी को आग से बचाने का खास इंतजाम किया गया है। टेंट सिटी में पहले ही अग्रिरोधी पेंट लगाये गये हैं इसके अतिरिक्त यहां पर फायर स्ट्रिंगविशर भी लग चुके हैं। अग्निशमन दल बकायदे इन चीजों के उपयोग की एनआरआई को ट्रेनिंग देगा। इसके अतिरिक्त यहां पर फायर ब्रिगेड के 150 जवान तैनात रहेंगे। साथ ही दो फायर टैंकर भी यहां पर 24 घंटे रहेगा।
यह भी पढ़े:-बीजेपी 49 दिनों में साधेगी 15 करोड़ वोटर, पीएम नरेन्द्र मोदी के लिए गेमचेंजर साबित होगी यह आयोजन

टेंट सिटी पहुंचने से पहले प्रवासी देख लेंगे पूरी काशी
प्रवासी सम्मेलन को देखते हुए शहर को भी खास ढंग से सजाया जा रहा है। शहर की दीवार पर जगह-जगह पर पेटिंग करके बनारस की संस्कृति व धर्म की जानकारी दी जा रही है। पेटिंग को इस तरह से बनाया गया है कि बाबतपुर हवाई अड्डे से टेंट सिटी पहुंचने से पहले ही प्रवासी सारी काशी को देख लेंगे। इसके अतिरिक्त प्रवासियों के जाने वाले प्रमुख स्थान बीएचयू, सारनाथ व गंगा घाट पर भी विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है जिससे प्रवासियों को लगे कि उनकी काशी कितनी बदल गयी है।
यह भी पढ़े:-यूपी की 38 सीटों पर वायरल हुई बसपा प्रत्याशियों की सूची में इस बाहुबली को टिकट, मुलायम सिंह यादव को लगा झटका

प्रवासियों को क्रूज से प्रयागराज जाने का नहीं मिलेगा मौका
केन्द्र सरकार ने बनारस से प्रयागराज तक क्रूज चलाने की योजना बनायी है। माना जा रहा था कि प्रवासी सम्मेलन के पहले यह योजना आरंभ हो जायेगी। पर ऐसा नहीं हो पाया है अब २६ जनवरी से काशी से प्रयागराज तक क्रूज चलेगी। ऐसे में प्रवासियों को २४ जनवरी को बस या फिर ट्रेन से ही प्रयागराज जाने का मौका मिलेगा। यदि क्रूज सेवा आरंभ हो जाती तो यह प्रवासियों के लिए खास अनुभव होगा।
यह भी पढ़े:-कुंभ में डूबती युवती को NDRF ने बचाया, पिता ने कहा हमारे लिए भगवान बन कर आये यह जवान

प्रवासियों को पसंद आयेगा रेलवे स्टेशन का बदला स्वरुप
प्रवासी सम्मेलन से पहले शहर के दो प्रमुख रेलवे स्टेशन कैंट व मंडुवाडीह का स्वरुप बदल गया है। जो लोग वर्षों पहले इन रेलवे स्टेशन को देखे होंगे उन्हें विश्वास नहीं होगा कि अब कितना बदल गया है। कैंट रेलवे स्टेशन से अधिक भव्यता मंडुवाडीह रेलवे स्टेशन पर देखने को मिल रही है जो प्रवासियों को बेहद पसंद आयेगी।
यह भी पढ़े:-सपा व बसपा गठबंधन होते ही बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने दिया बड़ा बयान

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned