मशहूर पंजाबी सिंगर हार्ड कौर बड़ी मुश्किल में, पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ बोलना पड़ सकता है भारी

मशहूर पंजाबी सिंगर हार्ड कौर बड़ी मुश्किल में, पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ बोलना पड़ सकता है भारी
मशहूर पंजाबी सिंगर हार्ड कौर बड़ी मुश्किल में, पीएम मोदी और अमित शाह के खिलाफ बोलन पड़ सकता है भारी

Ashish Kumar Shukla | Publish: Aug, 14 2019 05:29:58 PM (IST) | Updated: Aug, 14 2019 05:31:49 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

कैंट थाने में हार्ड कौर के खिलाफ दी गई तहरीर, जल्द कार्रवाई संभव

वाराणसी. मशहूर पंजाबी सिंगर हार्ड कौर एक बार फिर मुश्किलों में दिख रही हैं। कौर के खिलाफ बनारस के रहने वाले एक अधिवक्ता ने कैंट पुलिस थाने में तहरीर देकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। उन्होने तहरीर में लिखा है कि हार्ड कौर नामक पंजाबी गायिका अपने फेसबुक पर लगातार भारत विरोधी पोस्ट डाल कर जम्मू-कश्मीर और पंजाब में सरकार के खिलाफ जनभावनाओं को भड़काने का काम कर रही हैं। साथ ही आरोप लगाया है कि हार्ड कौर भारत सरकार के खिलाफ युद्ध भड़काने का षड्यंत्र रच रही है।

कैंट पुलिस के दिये तहरीर में इस्लामिक सद्भावना फाउंडेशन के सचिव और अधिवक्ता शशांक शेखर त्रिपाठी ने कहा कि पंजाबी सिंगर हार्ड कौर सोशल मीडिया पर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भारतीय सेना के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी करती हैं। आगे उन्होने लिखा है कि हार्ड कौर द्वारा लगातार इस तरह के पोस्ट करके भारत की गरिमा व प्रतिष्ठा को ठेस पहुंच रही है। उनका यह कृत्य मानहानिकारक, राष्ट्रद्रोह प्रकृति का और धार्मिक सद्भावना बिगाड़ कर दंगा करवाने की साजिश कर रही हैं। इसलिए जल्द इनके खिलाफ केस दर्ज किया जाना चाहिए।

ट्विटर ने सस्पेंड किया अकाउंट

बतादें कि दो दिनों से लगातार हार्ड कौर का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। 2.20 मिनट की क्लिप में हार्ड कौर पीएम मोदी और अमित शाह को चुनौती देते हुए दिख रही हैं साथ ही देश के दोनों नेताओं के खिलाफ टिप्पणी भी कर रही हैं। जिसके बाद टि्विटर ने कार्रवाई करते हुए कौर का अकाउंट सस्पेंड कर दिया।

जून में दर्ज हुआ था केस

बतादें कि अभी कुछ दिन पहले सीएम योगी और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के खिलाफ टिप्पणी करने के मामले में गायिका हार्ड कौर के खिलाफ कैंट थाने में देशद्रोह का मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। इस संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए, 153 ए, 500, 505 के तहत एफआईआर भी दर्ज़ करवायी गयी थी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned