सवालों से झल्लाए केंद्रीय मंत्री ने मीडिया पर की टिप्पणी

सवालों से झल्लाए केंद्रीय मंत्री ने मीडिया पर की टिप्पणी
central minister

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने बनारस की मीडिया पर किसी विचारधारा से प्रेरित होने का लगाया आरोपगोरखपुर में एम्स को लेकर प्रदेश सरकार पर बरसे, बनारस पर चुप्पी

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दो साल के कार्यकाल की उपलब्धियों का बखान करने बनारस आए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने बनारस की मीडिया पर किसी विचारधारा से प्रेरित होने का आरोप लगाया है। मीडिया के सवालों से झल्लाए केंद्रीय मंत्री सवालों का जवाब दिए बिना ही निकल गए। 
शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा की शुक्रवार को शिवपुर क्षेत्र स्थित एक लॉन में प्रेसवार्ता थी। तय समय से विलंब से पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने मोदी के दो वर्ष के कार्यकाल का बखान शुरू किया। जब मीडिया ने उनको बनारस में हो रहे विकास कार्यों की सच्चाई बतानी शुरू की तो केंद्रीय मंत्री मीडियाकर्मियों पर ही बरस पड़े। कहा कि आप लोग किसी विचारधारा से प्रेरित होकर सवाल पूछ रहे हैं। मीडिया ने जब उनसे स्वास्थ्य से संबंधित सेवाओं के बाबत पूछा तो पुरानी योजनाओं को नए सिरे से बताना शुरू किया। अधिकतर योजनाएं पहले से ही संचालित हैं। 
एम्स के बाबत पूछे जाने पर केंद्रीय मंत्री बोले कि गोरखपुर में हमने एम्स दे दिया है। एम्स के लिए जमीन देने का मसला प्रदेश सरकार का है। प्रदेश सरकार ने जो जमीन उपलब्ध कराई है उसको लेकर हाईकोर्ट में मामला चल रहा है। प्रदेश सरकार दूसरी जमीन उपलब्ध कराए तो एम्स का निर्माण शुरू हो। बनारस में एम्स के सवाल पर केंद्रीय मंत्री नड्डा कन्नी काट गए। 
 देश निडर हो गया है
केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा ने कहा कि दो साल में देश की छवि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सुधरी है। करप्ट देश के रूप में पहचान वाला भारत अब निडर, नेतृत्व करने वाला देश बना है। किसानों से लेकर आम आदमी तक के लिए मोदी ने योजनाएं लाई जो सफल हैं। आज हम बीस किलोमीटर सड़क प्रतिदिन बना रहे हैं। हर जिले में डायलसिस सेंटर खोलने की योजना है जहां गरीबों का मुफ्त डायलसिस हो सके।  इस मौके पर उन्होंने कर्तव्य पथ पर दो वर्ष के नाम से काशी क्षेत्र द्वारा जारी किताब का विमोचन किया। इस मौके पर मेयर रामगोपाल मोहले, महानगर अध्यक्ष प्रदीप अग्रहरी, जिलाध्यक्ष हंसराज विश् वकर्मा, धर्मेंद्र सिंह, प्रेम कपूर, सुजीत सिंह टीका, सत्यम सिंह, मधुकर चित्रांश समेत अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned