वाराणसी. घर में बज रहे थे ढोलक, गाया जा रहा था मंगल गीत, जमा थे नाते-रिश्तेदार। चारों तरफ सिर्फ और सिर्फ खुशियां ही खुशियां। एक तरफ हलवाई पकवान तैयार कर रहा था तो कोई मांड़ो सजाने में जुटा था। वैसे हरीष वगैरह गड़ चुका था। सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था कि अचानक पुलिस का हूटर सुनाई दिया। आवाज धीरे-धीर तेज होती गई। घर की ओर पुलिस की गाड़ी आती देख सभी ठिठक गए। महिलाओं की गीत गवनई थम सी गई। पुलिस वाले पूरे रोब दाब से डंडा पटकते पहुंचे। उनके साथ सादी वर्दी में भी कुछ लोग थे। घर में जैसे मातम पसर गया। कोई कुछ समझ ही नहीं पा रहा था कि अचानक क्या हो गया। तभी रोबदार आवाज में एक अफसर ने कहा लड़की के पिता को बुलाओ, लड़की कहां है? इतना सुनते ही घरातियों की हालत और खस्ता हो गई। पुलिस वालों ने धमकी दी शादी रुक गई। अब लड़की का मेडिकल मुआयना हो रहा है।



 

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned