जिससे था अवैध संबंध, उसकी जगह दूसरे लड़की की लगायी थी फोटो, यह हुआ अंजाम

Devesh Singh

Publish: Feb, 15 2018 04:10:57 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी. अवैध संबंध जिस लड़की से थी मोबाइल पर उसकी जगह दूसरे लड़की की फोटो लगायी थी। लड़की के परिजनों को जब इस संबंध की जानकारी हुई तो लड़के को बुलाया और फिर हत्या कर दी। लाश मिलने पर जब पुलिस पहुंची तो हत्यारा भी उसी समय वही पर था और पुलिस वालों के साथ मिल कर लाश तक उठायी। हत्यारे ने ऐसा कोई सुराग नहीं छोड़ा था, जिससे पुलिस उस तक पहुंच पाती। पुलिस की तप्तीश में एक ऐसा फोल कॉल मिला है, जिसक जरिए चोलापुर पुलिस ने पंचदेव पटेल की हत्या कर खुलासा दिया। गुरुवार को एसएसपी आरके भारद्वाज ने मीडिया के सामन हत्याकांड से जुड़ी जानकारी साझा की।
यह भी पढ़े:-जापान के पीएम के बाद अब फ्रांस के राष्ट्रपति देखेंगे पीएम मोदी के साथ गंगा आरती


एसएसपी आरके भारद्वाज ने बताया कि 9 फरवरी को चोलापुर थाना क्षेत्र के खेत में एक युवक की लाश मिल थी, जिसकी पहचान हमीरपुरा के छतांव निवासी पंचदेव पटेल के रुप में हुई थी। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी। जांच में पुलिस को पता चला कि मृतक का एक लड़की से अवैध संबंध था। पुलिस ने जब लड़की से पूछताछ की तो पंचदेव से संबंधों की जानकारी नहीं हो पायी। पुलिस ने जिस लड़की से पूछताछ की थी उसी की फोटो पंचदेव के मोबाइल पर थी। पुलिस को शुरू में लगा कि हत्या के पीछे यह लड़की जिम्मेदार है। पुलिस ने जब गहराई से जांच की तो चौकाने वाली जानकारी सामने आयी। पुलिस को पता चला कि मोबाइल में जिस लड़की की फोटो लगी थी उसकी दोस्त से पंचदेव का अवैध संबंध था। पंचदेव का लड़की के घर आना- जाना था। परिजनों को जब पंचदेव से अवैध संबंध की जानकारी हुई तो उन्होंने हत्या करने की योजना बनायी। परिजनों ने लड़की से फोन करके पंचदेव करके बुलाया और पिटायी करने के बाद उसकी गला दबा कर हत्या कर दी गयी। बाद में लाश दूसरी जगह फेंक दी। एसएसपी के अनुसार हत्या करने में लड़की का मौसा रामसेवक पटेल शामिल था जिसे पकड़ लिया गया है। एसएसपी के अनुसार हत्या की साजिश में लड़की व उसके भाई को भी गिरफ्तार किया गया है। पत्रकारा वार्ता में एसपीआरए अमित कुमार व सीओ सुरेन्द्र यादव भी उपस्थित रहे।
यह भी पढ़े:-बनारस की मेहमान बनेगी जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल

बहन के घर पर रहता था पंचदेव पटेल
पुलिस के अनुसार पंचदेव पटेल अपनी बहन के घर पर रहता था। पंचदेव का पिता नंदलाल पटेल मुम्बई में कमाता था। चोलापुर पुलिस के अनुसार अन्तु पटेल के यहां पर तेरहवी में पंचदेव गया था और वहां से वापस आने पर उसके मोबाइल पर फोन आया था इसके बाद पंचदेव निकल गया था फिर लौट कर नहीं आया। हत्या का खुलासा करने वालों में चोलापुर एसओ दुर्गेश्वर मिश्र, एसआई अतुल प्रजापति, लक्ष्मण यादव, दिनेश पाल आदि पुलिसकर्मी शामिल थे।
यह भी पढ़े:-सारे समीकरण हुए फेल, माफिया से माननीय बने बृजेश सिंह के घर पहुंचे बाहुबली क्षत्रिय नेता राजा भैया

1
Ad Block is Banned