Breaking news वाराणसी में भगदड़ की न्यायिक जांच को आयोग का गठन

Breaking news वाराणसी में भगदड़ की न्यायिक जांच को आयोग का गठन
varanasi stampede

इलाहाबाद हाईकोर्ट के पूर्व न्यायमूर्ति करेंगे जाँच

वाराणसी. जय गुरुदेव आश्रम की तरफ से वाराणसी में आयोजित सत्संग समारोह और शोभायात्रा के दौरान राजघाट पुल पर मची भगदड़ के दौरान हुई 25 लोगों की मौत के मामले में न्यायिक जांच के लिए मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जांच एकल सदस्यीय जांच आयोग का गठन किया है। 
जांच आयोग की अध्यक्षता इलाहाबाद उच्च न्यायलय के पूर्व न्यायमूर्ति राजमणि चौहान होंगे। आयोग को दो माह के भीतर इस हादसे को लेकर रिपोर्ट देने की अपेक्षा की गयी है। 
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के इस कदम से प्रशासनिक महकमे में हड़कम्प मच गया है। इस मामले में पहले ही एसएसपी से लगायत आधा दर्जन पुलिस अधिकारी के साथ ही एडीएम सिटी, सिटी मजिस्ट्रेट भी नप चुके हैं। उधर पुलिस ने भी जय गुरुदेव आश्रम के प्रबंधक समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा कायम किया गया है। 
गौरतलब है कि पंकज बाबा की ओर से आयोजित इस सत्संग समागम में अनुमान से अधिक लोग वाराणसी में पहुंच गए और प्रशासनिक तंत्र बेखबर रहा। 15 अक्टूबर को अधिकारी तब जागे जब जर्जर हो चुके राजघाट पुल पर जय गुरुदेव के भक्तों से पट गया। इसी दौरान एक अफवाह के चलते भगदड़ मच गयी जिसमें 25 लोगों की मौत हो गयी थी।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned