नीतीश दे रहे थे शराब पर ज्ञान, बिहारी छलका रहे थे जाम

नीतीश दे रहे थे शराब पर ज्ञान, बिहारी छलका रहे थे जाम
bihari's drinking alcohol

जदयू की रैली के दौरान बनारस में शराब की खपत दो गुना बढ़ी, पीने के बाद गाडिय़ों में भरकर ले गए शराब की पेटियां

वाराणसी. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मोदी के गढ़ बनारस में अपने राज्य में पूर्ण शराबबंदी के फायदे गिनाने के साथ ही प्रधानमंत्री को चुनौती दे रहे थे कि बिहार की तर्ज पर कम से कम बीजेपी शासित राज्यों में ही शराब बैन करा दें। मंच से नीतीश ललकार रहे थे और कार्यक्रम स्थल से थोड़ी दूर पर मौजूद देशी-विदेशी शराब व बीयर की दुकानों पर भीड़ जुटी थी। यह भीड़ उन बनारसियों की नहीं थी जो रोज उन ठीहों पर जाते थे बल्कि यह वह लोग जो बिहार से आए थे नीतीश की रैली में उन्हें सुनने व कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए। 
जनता दल यूनाइटेड का गुरुवार को वाराणसी के पिंडरा इलाके में कार्यकर्ता सम्मेलन था। सम्मेलन में उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए पदाधिकारियों के अलावा बिहार से भारी संख्या में बस, जीप व एसयूवी से आए थे। रैली से पहले व बाद में देर रात तक शराब का दौर चलता रहा।

इन इलाकों में पांच गुना बिक्री बढ़ी
आबकारी विभाग के सूत्रों की माने तो बीते दो दिन में बनारस में शराब की बिक्री दो से पांच गुना तक बढ़ गई। पिंडरा, बाबतपुर, कैंट, लंका क्षेत्र में तो पांच गुना तक अल्कोहल बिका। पिंडरा क्षेत्र के दुकानदारों ने बताया कि रैली में आने वाले लोग सुबह से ही बाजार में घूम-घूमकर शराब की दुकानों का पता पूछ रहे थे। कार्यकर्ता सम्मेलन समाप्त होने के बाद कैंट, नदेसर, चौकाघाट और लंका मार्ग की शराब की सभी दुकानों पर भीड़ उमड़ी थी। कैंट इलाके एक लाइसेंस होल्डर ने बताया कि पहले तो लोगों ने जमकर शराब पी फिर गाडिय़ों में भरकर देशी-विदेशी के साथ बीयर की बोतलें भी ले गए। 

ट्रेन-बस से हो रही शराब की तस्करी
नदेसर इलाके में बिहार से आए छह युवकों के एक गु्रप ने शाम की दवा का जमकर सेवन किया। नशे में बड़बड़ा रहे थे कि अब तो किसी से ट्रेन से मंगाओ तो किसी से बस से। एक ने बताया कि वह बालू लदे ट्रक की आड़ में रोज दो से तीन बोतल शराब मंगाता है। 
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned