कर्नाटक विधानसभा प्रकरण- BJP पर विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप, बनारस में कांग्रेस का जोरदार प्रदर्शन

Ajay Chaturvedi

Publish: May, 18 2018 03:20:13 PM (IST)

Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी. कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद से चल रही सियासत की आंच अब प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी तक पहुंच गई है। कांग्रेस ने कर्नाटक के हालिया प्रकरण पर रोष ही नहीं जताया बल्कि सड़क पर उतर कर जमकर हल्ला बोला। कहा कि जब से केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी है तब से पूरे देश में लोकतंत्र का गला घोंटा जा रहा है। संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। बीजेपी का तो लोकतंत्र में तनिक भी विश्वास नहीं। पीएम नरेंद्र मोदी हों या भाजपा अध्यक्ष अमित शाह केवल तीन-तिकड़म से विधानसभाओं पर कब्जा जमाने के एक सूत्री अभियान में जुटे हैं। इसका ताजा तरीन उदाहरण कर्नाटक विधानसभा है।


टाउनहॉल स्थित गांधी प्रतिमा के समक्ष धरना प्रदर्शन को संबोधित करते हुए महानगर कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष मणींद्र मिश्रा ने कहा जब से केंद्र सरकार भारतीय जनता पार्टी केंद्र सरकार में आई है सबसे पूरे देश में विधानसभा चुनाव में लोकतांत्रिक मूल्यों का गला घोटा जा रहा है। कहीं ईवीएम की गड़बड़ी तो कहीं जोर जबरदस्ती से चुनाव, कहीं विधायकों की खरीद-फरोख्त। कुछ विधानसभा में तो कांग्रेस के सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद संबंधित प्रदेश के राज्यपाल द्वारा सरकार बनाने का न्योता न दिया जाना तानाशाही का द्योतक है। ऐसा ही कुछ कर्नाटक में भी हुआ, जेडीएस और कांग्रेस के साथ कुल सदस्यों की बहुमत संख्या होने के बावजूद राज्यपाल ने अल्पमत में आने वाली BJP को सरकार बनाने का न्योता दिया जो पूर्णता असंवैधानिक है। मिश्र ने कहा पूरे देश में इस समय अघोषित आपातकाल जैसी स्थिति पैदा हो गई है। राज्यपाल ने 15 दिन का समय दिया इन 15 दिनों में BJP को खरीद फरोख्त का पूरा मौका राज्यपाल द्वारा दिया जा रहा है जो निश्चित तौर पर एकतरफा कार्रवाई से पूरा देश हतप्रभ है। अब तो सुप्रीम कोर्ट ही है जहां से न्याय की आस है। सर्वोच्च न्यायालय ने शुक्रवार को जो फैसला सुनाया है हम सभी उसका स्वागत करते हैं।
सभा को संबोधित करते हुए सेवादल के शहर मुख्य संगठक प्रभात वर्मा ने कहा केंद्र सरकार जिस तरह से असंवैधानिक तरीके से तमाम राज्यों के विधानसभा चुनाव में सीधे-सीधे खरीद-फरोख्त पर आमादा है उससे दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र पर खतरा उत्पन्न हो गया है। गांधी के देश में इतिहास में पहली बार ऐसा हो रहा है जब एक राजनीतिक दल नीति नियत और नैतिकता की बड़ी बड़ी बातें करके सिर्फ और सिर्फ सत्ता हथियाने का कार्य कर रही है। निश्चित तौर पर 2019 में जनता इस पर करारा जवाब देगी।

धरना प्रदर्शन में महानगर कांग्रेस कमेटी प्रभारी दुर्गा प्रसाद गुप्ता, संजय चौबे, डॉ जीतेंद्र सेठ, पूनम कुन्डू, श्वेता राय, विनय शंकर राय मुन्ना, विरेन्द्र कपूर्, प्रमोद श्रीवास्तव्, गिरिश चन्द्र, जेपी तिवारी, मनोज वर्मा, अभिषेक चौरसिया, शालिनी यादव्, रितु पांडेय, प्रमोद वर्मा, बब्लू शुक्ला, नागेन्द्र पाठक, मंगलेश, विपिन मेह्ता, विकाश गुप्ता, अतुल माल्वीय, अनिल श्रीवास्तव आदि शामिल रहे। संचालन दुर्गा प्रसाद गुप्ता ने किया जबकि डॉ जितेंद्र सेठ ने आभार जताया।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned