कांग्रेस पार्षदों का अनिश्चित कालीन धरना स्थगित पूर्व विधायक अजय राय ने जीएम जलकल को दी 15 दिन की मोहलत

कांग्रेस पार्षदों का अनिश्चित कालीन धरना स्थगित पूर्व विधायक अजय राय ने जीएम जलकल को दी 15 दिन की मोहलत
कांग्रेस पार्षदों का धरना

Ajay Chaturvedi | Updated: 26 Jul 2019, 07:56:49 PM (IST) Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

जीएम जलकल ने मांगी 15 दिन की मोहलत
पूर्व विधायक ने चेताया समय सीमा में नहीं हुआ काम तो कांग्रेस लड़ेगी लड़ाई
चार दिन तक चला कांग्रेस पार्षदों का धरना-प्रदर्शन

वाराणसी. शहर के ध्वस्त सीवर सिस्टम और घरों में सप्लाई हो रहे दूषित जलापूर्ति के विरोध में चार दिनों से चल रहा कांग्रेस पार्षदों का अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुक्रवार को पूर्व विधायक अजय राय की मध्यस्तता के चलते समाप्त हो गया। धरना स्थल पर जीएम जल कल नीरज गौड़ और पूर्व विधायक के बीच शहर की समस्या को दूर करने को लेकर लंबी वार्ता हुई। जीएम जलकल ने पूर्व विधायक से 15 दिन की मोहलत मांगी है जिसमें वह रोज-रोज की शिकायतों को दूर करेंगे। बड़े काम के लिए पार्षदों की राय से योजना बना कर उसका स्थाई समाधान निकाला जाएगा। इस मौके पर पूर्व विधायक अजय राय ने जलकल महाप्रबंधक को चेतावनी भी दी कि यह धरना फिलहाल स्थगित किया जा रहा है, समयसीमा में काम नहीं हुआ तो पार्षद नहीं बल्कि पूरी कांग्रेस आंदोलन करेगी।

बता दें कि शहर की बदहाली के विरोध में कांग्रेस व कुछ निर्दल पार्षदों ने 23 जुलाई से जलकल परिसर में अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया था। कांग्रेस पार्षद दल के नेता सीताराम केशरी के नेतृत्व मे चल रहे इस धरने के चौथे दिन शुक्रवार की शाम पूर्व विधायक अजय राय मौके पर पहुंचे और जीएम जलकल को धरना स्थल पर बुला कर लंबी वार्ता की। उन्होंने शहर की बदहाली के बारे में विस्तार से बताया। बातचीत में जीएम जलकल गौड़ ने स्वीकार किया कि सीवर लाइन डालने के मामले में पूर्व में गल्तियां हुई हैं। लेकिन इसे दुरुस्त किया जाएगा पर इसके लिए थोड़ा वक्त चाहिए। योजना बना कर ही उस पर काम होगा। गौड़ ने कहा कि पार्षदों की मांग पर विभागीय अभियंताओं संग बातचीत हुई है। कुछ काम शुरू करा दिए गए हैं। शेष पर भी एक-दो दिन में काम शुरू करा दिया जाएगा।

कांग्रेस पार्षदों का धरना

पार्षदों की शिकायत पर उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय अवर अभियंता जनप्रतिनिधियों की सुनेगे, उनसे मशविरा कर काम को अमली जामा पहनाएंगे। कहा कि ठेकेदारों को भी चेता दिया गया है। जो ठेकेदार ठीक से काम नहीं करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई होगी। अवर अभियंता अगर पार्षदों से तालमेल नहीं बिठाते हैं तो उन पर भी गाज गिरेगी। इसकी शुरूआत हो चुकी है। कई लोगों को प्रतिकूल प्रविष्टि दी गई है।

ये भी पढें-पेयजल आपूर्ति और ध्वस्त सीवर व्यवस्था के खिलाफ कांग्रेस ने खोला मोर्चा, अनिश्चित कालीन धरना शुरू

पूर्व विधायक अजय राय ने कहा की मेरे आवस पर आकर जीएम जलकल नीरज गौड़ व सचिव राघवेंद्र कुमार ने कहा कि कांग्रेस पार्षद व निर्दल पार्षद समस्यायों के निस्तारण होने तक धरना पर अड़े है आप धरना स्थगित कराएं, हम 15 दिनों में समस्याओं का समाधान करेंगे। उसके बाद शुक्रवार को कांग्रेस पार्षद व निर्दल पार्षदों का धरना 15 दिनों के लिए स्थगित हुआ है।

धरने के नेतृत्वकर्ता महानगर अध्यक्ष/नेता पार्षद दल सीताराम केशरी ने कहा की सम्पूर्ण शहर की सीवर व दूसित पेयजल की समस्याओं से शहर ग्रसित है जिस वजह से हम पार्षदजन यहां धरने पर अनवरत 23 जुलाई से बैठे है आज जल महाप्रबन्धक नीरज गौड़ व सचिव राघवेंद्र कुमार के कहने पर 15 दिन के आश्वासन पर धरना स्थगित हुआ है। अगर समस्याओं का हल नही हुआ तो पुनः 15 दिनों बाद धरना चालू होगा जो बड़े आंदोलन के रूप में कांग्रेसजनों संग होगा।।

इस मौके पर रमजान अली, अजित सिंह,डॉ अख्तर अली,अनीसुर्रहमान अंसारी, विनय शादेजा,हाजी वकाश अंसारी,मौलाना रियाजुद्दीन, अनिल शर्मा, गुलशन अली, साजिद अंसारी, अफजल अंसारी, बेलाल अहमद, संजय सिंह डॉक्टर, गोविंद शर्मा,अरशद लड्डू,मो.सलीम, इकलाख अहमद,प्रिंस राय खगोलन,मयंक चौबे,तुफैल अंसारी, व सहयोगी कांग्रेसजनो में जिलाध्यक्ष प्रजानाथ शर्मा, फ़साहत हुसैन बाबू, शम्भूनाथ बाटुल, हसन मेहंदी कब्बन, ओमप्रकाश ओझा, चंचल शर्मा, मनीष कुमार, गौरव कपूर, ओम शुक्ला, धीरज सोनकर, पूनम कुंडू, मुन्ना जयसवाल, ब्रह्मदत्त त्रिपाठी, आशीष केशरी, पप्पू मोदनवाल, मुन्ना पांडेय, दिग्विजय सिंह, मनोज उपाध्याय, बृजरमण कुशवाहा, देवेन्द्र सिंह, शैलेन्द्र सिंह, दिनेश, महेंद्र वर्मा, जयप्रकाश शर्मा, अफसर खान, रामनरेश राजभर,कैलाश पांडेय, किशन यादव आदि मौजूद रहे।

धरना खत्म होने के बाद पार्षदों और कांग्रेस नेताओं ने वहीं 101 दीपक व मोमबत्ती जला कर कारगिल शहीदों को श्रद्धांजलि दी। शहीदों को नमन किया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned