scriptCorona infection increased four times in 10 days in Varanasi one cancer patient also infected | वाराणसी में कोरोना संक्रमणः 10 दिन में बढ़े चार गुना केस, एक कैंसर पीड़ित भी मिला संक्रमित | Patrika News

वाराणसी में कोरोना संक्रमणः 10 दिन में बढ़े चार गुना केस, एक कैंसर पीड़ित भी मिला संक्रमित

वाराणसी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार लगातार बढती जा रही है। आलम ये है कि महज 10 दिन में ही चारगुना केस मिल चुके हैं। ये दीगर है कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग लगातार ये दावा कर रहा है कि उसकी तैयारी पूरी है। सारे अस्पताल, यहां तक कि सीएचसी-पीएचसी भी तैयार हैं। यही नहीं विभाग लगातार लोगों से गाइडलाइन का पालन करने की अपील भी कर रहा है।

वाराणसी

Published: April 29, 2022 02:05:29 pm

वाराणसी. जिले में कोरोना संक्रमण की रफ्तार लगातार तेज हो रही है। हाल ये कि 10 दिन में ही कोरोना मामलों में चार गुना की बढोत्तरी दर्ज की गई है। इसी कड़ी में गुरुवार को जिले में पांच केस मिले है जिनमें एक कैंसर पीड़ित भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।
कोरोना संक्रमण में वृद्धि (प्रतीकात्मक फोटो)
कोरोना संक्रमण में वृद्धि (प्रतीकात्मक फोटो)
51 दिन बाद गुरुवार को मिले 5 केस

वाराणसी में 51 दिन बाद एक साथ कोरोना के पांच संक्रमित केस मिले हैं। इससे पूर्व सात मार्च कोरोना के 9 केस मिले थे। ऐसे में अब जिले में कोरोना संक्रमण की दर 0.13 फीसद हो गई है।
कैंसर पीड़ित निकला कोरोना संक्रमित

कोविड लैब से गुरुवार की शाम आई रिपोर्ट में पांच संक्रमित केस की पुष्टि हुई। बताया गया कि इन संक्रमितों में लहरतारा के 69 व 58 वर्षीय पुरुष इंदिरा नगर की 50 वर्षीय महिला, गोंडा निवासी 43 वर्षीय व आजमगढ़ निवासी 19 वर्षीय युवक संक्रमित पाए गए हैं। लहरतार के 56 वर्षीय पुरुष कैंसर पीड़ित हैं। वो होमी भाभा कैंसर अस्पताल में इलाज के लिए आए थे और कोविड जांच में कोरोना संक्रमित पाए गए। वहीं गोंडा और आजमगढ़ निवासी बीएचयू अस्पताल में इलाज के लिए आए थे।
9 दिन में 17 संक्रमित

कोविड रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 9 दिन में बनारस में हुई जांच में 17 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। ये दीगर है कि अन्य शहरों के मुकाबले स्थिति अभी नियंत्रण में है। लेकिन जिस तरह से बीएचयू जंतु विज्ञान विभाग के प्रो ज्ञानेश्वर चौबे ने सीरो सर्वे के आधार पर बताया है कि लोगों की हर्ड इम्यूनिटी में 28-30 फीसद की गिरावट आई है उसे लेकर लोगों में दहशत जरूर है। ऐसे में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग लगातार लोगों से कोविड गाइडलाइन का पालन करने की अपील कर रहा है।
कोविड गाइडलाइन को नकारना खड़ी कर सकता है मुसीबत

एमआरयू लैब प्रभारी प्रो रॉयना सिंह का कहना है कि कोविड गाइडलाइन को नकारना बड़ी मुसीबत पैदा कर सकता है। ऐसे में हर किसी को चाहिए कि घर से बाहर निकलें तो मास्क पहन कर निकलें। यहां तक कि बच्चों को भी संभाल कर रखें, क्योंकि अभिभावकों से बच्चों को ज्यादा खतरा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीउदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांडः कानपुर से आतंकी कनेक्शन, एनआईए की टीम जल्द जा कर करेगी छानबीनAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.