मोदी-अखिलेश राज में ताख पर काशी की कानून-व्यवस्था

मोदी-अखिलेश राज में ताख पर काशी की कानून-व्यवस्था
crime city

तपिश के साथ बढ़ता जा रहा बनारस में अपराध का ग्राफ, बैंक ऑफ बड़ौदा के बैंक मैनेजर से छिनैती

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के जिला बनारस में अपराध का ग्राफ उसी तेजी से बढ़ रहा है जिस तेजी से इस मौसम में तपिश। प्रधानमंत्री मोदी को बनारस से प्रस्थान किए  चौबीस घंटे भी नहीं गुजरे कि कानून-व्यवस्था को चुनौती देते हुए बदमाशों ने एक और अपराध को अंजाम दे दिया।
 लंका थाना क्षेत्र के इंदिरा नगर कॉलोनी में सोमवार रात बदमाश बैंक मैनेजर का बैग छीन कर भाग निकले। जानकारी के अनुसार बैंक ऑफ बड़ौदा में मैनेजर के पद पर कार्यरत शरद टंडन इंदिरा नगर कॉलोनी में रहते हैं। बैंक का काम समाप्त होने के बाद शरद टंडन घर को निकले। हाथ में बैग लिए बैंक शरद टंडन कालोनी में पैदल घर की ओर बढ़ रहे थे कि बाइक सवार दो बदमाश पहुंचे और उन्हें धक्का देकर जमीन पर गिरा दिया। शरद के हाथ में मौजूद बैग छीनकर बाइक सवार फरार हो गए। बैंक मैनेजर के अनुसार बैंग में बैंक की चाभी के अलावा बैंक से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण दस्तावेज थे।
कालोनीवासियों की सूचना पर पहुंची पुलिस को क्षेत्रीय लोगों का रोष झेलना पड़ा। कालोनीवासियों का कहना था कि पुलिस की गश्त न होने के कारण यहां आए दिन लूट, छिनैती की घटनाएं होती रहती है। 
 वाराणसी में इन दिनों आपराधिक वारदातें बढ़ गई है। बीते एक माह के भीतर तीन कारोबारियों को रंगदारी के लिए धमकी दी गई है। लूट और छिनैती की घटनाओं में भी तेजी है। वाराणसी पुलिस जिस तेजी से मामलों का खुलासा कर रही है, बदमाश उसी तेजी से वारदात कर रहे हैं। वाराणसी देश के प्रमुख तीर्थ व पर्यटन स्थल में शुमार होने के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र भी है। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी वाराणसी को लेकर हमेशा फिक्रमंद रहते हैं लेकिन उनकी पुलिस की हनक जिस तरह घट रही है उससे लोगों के मन में सवाल खड़े हो रहे हैं।  

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned