वाराणसी में नाबालिग दलित छात्र की बेरहमी से पिटाई  

वाराणसी में नाबालिग दलित छात्र की बेरहमी से पिटाई  
beaten

दबंगों की पिटाई से बेहोश हुआ छात्र, जानिए क्या है मामला

वाराणसी. उत्तर प्रदेश की राजनीति में इस समय छोटी-बड़ी वारदात पर प्रमुख राजनीतिक दलों की नजरें हैं। दलित वोट बैंक की राजनीति करने वालीं बसपा सुप्रीमो दो दिन पहले ही गुजरात गई थी क्योंकि वहां एक दलित युवक की पिटाई हुई थी। वाराणसी में भी शुक्रवार को दबंगों ने पुरानी रंजिश में दलित छात्र को बेरहमी से पीट दिया है। 

फूलपुर थाना क्षेत्र के पिंडरा में मानापुर गांव में दबंगों ने कक्षा आठ में पढऩे वाले दलित छात्र संतोष को उस समय रोक लिया जब दिन में एक बजे स्कूल से छुट्टी होने के बाद वह घर की राह पर था। दबंगों ने बारह वर्षीय संतोष को रोकने के बाद उसे घेरकर इस कदर पीटा कि वह बेहोश हो गया। 

संतोष को सड़क किनारे बेहोश देख ग्रामीणों ने उसकी नानी को सूचना दी और घर लेकर आए। परिजन संतोष को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे और प्राथमिक उपचार के बाद संतोष की नानी लालमणि ने गांव के दबंगों हिंदलाल, वीरेंद्र, शिवशंकर पटेल व अशोक पटेल समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा कायम कराया। पुलिस के अनुसार लालमणि और पटेल वर्ग के लोगों के बीच लंबे समय से पुरानी रंजिश चल रही है। फिलहाल सभी आरोपी फरार हैं और उनकी तलाश चल रही है। 

फिलहाल दलित छात्र की पिटाई के मामले को लेकर पुलिस भी बेचैन हैं क्योंकि प्रदेश में इस समय जो राजनीतिक सरगर्मी चल रही हैं, कहीं दलित छात्र को लेकर कोई बवाल न हो, पुलिस आरोपियों की धरपकड़ को अभियान चलाने के साथ ही गांव पर भी नजर रखे है ताकि अराजक तत्वों को रोटी सेंकने का मौका न मिले।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned