scriptDeath of fishes in sealed watershed of Gyanvapi complex Mosque Committee wrote letter to DM | ज्ञानवापी परिसर के सील वजूखाने की मछलियों की मौत, मस्जिद कमेटी ने डीएम को लिखा पत्र | Patrika News

ज्ञानवापी परिसर के सील वजूखाने की मछलियों की मौत, मस्जिद कमेटी ने डीएम को लिखा पत्र

locationवाराणसीPublished: Dec 28, 2023 08:15:47 pm

Submitted by:

SAIYED FAIZ

ज्ञानवापी परिसर में मई 2022 में कोर्ट कमीशन सर्वे में मिले वजूखाने को 16 मई को कोर्ट ने सील करने का आदेश दिया था। यह वजूखाना 17 मई से सील है। अब इस वजूखाने में सफाई के न होने से इसमें पल रहीं मछलियां मर रही हैं। ऐसे में मस्जिद कमेटी ने इसकी सफाई के लिए डीएम को लेटर लिखा है।

Varanasi Gyanvapi Mosque
ज्ञानवापी परिसर के सील वजूखाने की मछलियों की मौत
वाराणसी। ज्ञानवापी परिसर में सील वजूखाने को छोड़कर पूरे परिसर का हाल ही में ASI ने सर्वे पूरा किया है। इस सर्वे के बाद ज्ञानवापी मस्जिद ने जिलाधिकारी को एक पत्र लिखा है, जिसमें यह कहा गया है कि 17 मई से सील किए गए वजूखाने के अंदर मौजूद मछलियों की देख-रेख को लेकर एक प्रार्थना पत्र भी मस्जिद कमेटी ने कोर्ट में दिया था, पर अब ये मछलियां साफ-सफाई के अभाव में मर रहीं हैं। मछलियों की मरने की सूचना पर मस्जिद पहुंचे कमेटी के सदस्यों ने इस बात को पुख्ता करने के बाद जिलाधिकारी एस राजलिंगम को एक लेटर लिखा है कि जिसमें वजूखाने की साफ-सफाई करवाने की मांग की गई है।
कोर्ट कमीशन सर्वे के बाद हुआ था सील

कोर्ट के आदेश पर ज्ञानवापी परिसर का मई 2022 में 6,7 और 14,15 और 16 मई को सर्वे हुआ था। इस सर्वे में 16 मई को परिसर के अंदर मौजूद वजूखाने में कथित शिवलिंग के मिलने की बाद कहते हुए हिन्दू पक्ष के अधिवक्ताओं ने कोर्ट में अर्जी देकर उस स्थान को सील करने की मांग उठाई थी जिसपर सिविल जज सीनियर डिवीजन ने तत्काल प्रभाव से वजूखाने को सील करने का आदेश दिया और डीएम ने अगले ही दिन वजूखाने को सील कर सीआरपीएफ की सुरक्षा में दे दिया। इसके बाद इस वजूखाने में मौजूद मछलियों के चारे की व्यवस्था को लेकर कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया था और साफ-सफाई की भी बात कही थी लेकिन साफ-सफाई न होने से अब मछलियां मरने लगी है।
डीएम को साफ-सफाई के लिए लिखा गया पत्र

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मस्जिद कमेटी ने इस संबंध में अब जिलाधिकारी को पत्र लिखा है कि 'वजूखाना सील होने के कारण उसकी साफ सफाई और पानी निकासी नहीं हो पा रही है। इसके चलते अधिकांश मछलियां मर गई है। मछलियों के मरने से उसकी दुर्गंध दूर तक पहुंच रही है और बीमारी का खतरा भी बढ़ रहा है और लोगों के इसके चपेट में आने का भी डर है। लेटर में लिखा है कि सीआरपीएफ जवान यहां आने वाले नमाजी और विश्वनाथ मंदिर आने वाले दर्शन भक्तों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में इसकी तत्काल सफाई कराई जाए।

ट्रेंडिंग वीडियो