scriptdistrict administration new strategy to stop violent protest against Agneepath scheme | Agneepath Scheme के विरोध में हिंसक प्रदर्शन करने वालों नौजवानों के चरित्र प्रमाण पत्र में होगा उल्लेख, भविष्य में नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी | Patrika News

Agneepath Scheme के विरोध में हिंसक प्रदर्शन करने वालों नौजवानों के चरित्र प्रमाण पत्र में होगा उल्लेख, भविष्य में नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी

Agneepath Scheme के विरोध को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने अब नई रणनीति बनाई है। इस पर रविवार से ही अमल भी शुरू हो गया है। इसके तहत मजिस्ट्रेटो ने ग्राम प्रधानों और गणमान्य लोगों के साथ गांव-गांव बैठक शुरू की है। सभी ग्राम स्तरीय कर्मचारियों को सूचना संकलन में लगाया गया है। घर-घर जा कर युवाओं और उनके अभिभावकों को समझाया जा रहा है। उन्हें ये भी बताया जा रहा कि विरोध जताने के लिए हिंसा का रास्ता अख्तियार करना सही नहीं।

वाराणसी

Published: June 19, 2022 07:27:11 pm

वाराणसी. Agneepath Scheme के विरोध को रोकने के लिए प्रशासन ने नई रणनीति के तहत काम शुरू कर दिया है। रणनीति के तहत वरिष्ठ अधिकारियों को गांवों में भेजा जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को अभियान के तहत लगाया गया है। आला अफसरों ने मातहतों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि इस बात पर नजर रखें कि कहीं कोई Agneepath Scheme को लेकर हिंसक विरोध करने की कोशिश करता है या ऐसी कोई रणनीति बनाता है तो तत्काल उसकी जानकारी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को दी जाए ताकि ऐसे तत्वों से कड़ाई से निबटा जा सके। कलेक्टर और पुलिस कमिश्नर के निर्देश पर उप जिलाधिकारियों और क्षेत्राधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र के ग्राम प्रधानों और अन्य गणमान्य लोगों के साथ बैठकें कर उन्हें किसी बहकावे में न आने की सलाह दे रहे हैं। ग्राम सभाओं में भी ऐसी बैठकें कर नौजवानों को वस्तुस्थिति से अवगत कराने का प्रयास किया जा रहा है।
अग्निपथ योजना के विरोधियों की धरपकड़ में पुलिस व प्रशासनिक अफसरों का ग्रामीण क्षेत्र का दौरा
अग्निपथ योजना के विरोधियों की धरपकड़ में पुलिस व प्रशासनिक अफसरों का ग्रामीण क्षेत्र का दौरा
अग्निपथ योजना के विरोधियों को हिसात्मक प्रदर्शन को रोकने को पुलिस व प्रशासनिक अफसर ग्रामीणों को समझाते हुएसभी थानों और राजस्व स्टाफ को अलर्ट किया गया

तहसील सदर क्षेत्र में रात से ही सभी थानों और राजस्व स्टाफ को अलर्ट कर दिया गया है। सभी थानों पर ग्राम प्रधानों, कोटेदारों, राजस्व स्टाफ तथा पुलिस की मीटिंग की जा रही है। लेखपालों को गांवों में प्रधानों व कोटेदारों के साथ युवाओं एवं उनके परिवारों के साथ सांयकालीन एवं रात्रि चौपाल लगा कर आगाह किया जा हैं। सभी मजिस्ट्रेट के द्वारा गांव-गांव जा कर प्रमुख लोगो से वार्ता की गई है। एसडीएम सदर व पुलिस क्षेत्राधिकारी पिंडरा ने गाजीपुर बार्डर और पूरे रूट के चेक पॉइंट्स का भ्रमण किया। सभी नाकों पर पुलिस व रेवेन्यू स्टाफ की ड्यूटी लगा दी गई है। सभी कोचिंग संचालकों से वार्ता कर उन्हे युवाओं को सकारात्मक रूप से प्रेरित करने को मोटीवेट किया गया। सबसे अधिक संवेदनशील 20 गांवों की पहचान कर ली गई है। साथ ही बड़े स्तर पर लोगो को सीआरपीसी 149 के नोटिस भी जारी किए हैं। सभी कार्मिकों को सुबह सूर्योदय से ही अपने अपने ड्यूटी स्थलों पर उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए है।
चोलापुर थाना क्षेत्र में 24 के खिलाफ सीआरपीसी की कार्रवाई

चोलापुर थाना क्षेत्र के हाजीपुर गांव के 13, सुहलिया के 3,जगदीशपुर के 2, इस प्रकार कुल 24 लोगो के खिलाफ़ 107/116 सीआरपीसी की कार्रवाई की गई। थाना चौबेपुर अंतर्गत 8 व्यक्तियों की खिलाफ सीआरपीसी 151 की करवाई की गई। थाना लोहता अंतर्गत सीआरपीसी 151 अंतर्गत गांव घामरिया कोटवा चांदपुर वैष्णो नगर कॉलोनी के कुल 8 लोगो के खिलाफ मुचलके की कार्यवाई की गई। इसके साथ ही थाना चौबेपुर एवम चोलापुर अंतर्गत लगभग 130 लोगो को हिंसक गतिविधियों में भाग लेने से रोकने के लिए सीआरपीसी 149 के नोटिस भी जारी किए गए हैं।
अग्निपथ योजना के विरोधियों को हिसात्मक प्रदर्शन को रोकने को पुलिस व प्रशासनिक अफसर ग्रामीणों को समझाते हुएएसडीएम- बीडीओ ने ली सेवापुरी में बैठक

उप जिलाधिकारी राजातालाब एवं क्षेत्राधिकारी बड़ागांव, तहसीलदार राजातालाब व खंड विकास अधिकारी सेवापुरी की अध्यक्षता में क्षेत्र के ग्राम प्रधानों के साथ बैठक कर सभी को निर्देशित किया गया है कि वे अपने-अपने गांव में केंद्र सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना Agneepath Scheme से संबंधित हिंसक विरोध करने वाले लोगों को चिन्हित करें तथा गांव में बाहर से आने वाले संदिग्ध लोगों के बारे में जानकारी दें। साथ ही ये भी कहा गया है कि सेना भर्ती की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों और उनके कोच के बारे में भी जानकारी संकलित कर अवगत कराएं। ऐसे लोगों को किसी भी अराजक एवं हिंसक गतिविधियों में कतई लिप्त न होने तथा विधिक प्रक्रिया के तहत कार्य करने को उन्हें जागरुक व प्रेरित करें।
एसडीएम पिंडरा संदिग्धों की पहचान करने में जुटे

उप जिलाधिकारी पिण्डरा राजीव कुमार राय और क्षेत्राधिकारी ने सिंधोरा थाना क्षेत्र के ग्राम चमरू गरथमा, मुर्दी व कूटहा मुर्दी के कतिपय 06 लोगों को चिन्हित किया गया है जिनके द्वारा 17 जून को शहर वाराणसी जा कर तोड़फोड़ की गई थी। इनके विरुद्ध 107/116 की पाबंदी की कार्रवाई की गई। उन्होंने रविवार को तहसील सभागार में तहसील क्षेत्र अंतर्गत विकासखंड पिंडरा, बड़ागांव एवं हरहुआ के ग्राम पंचायत/ग्राम विकास अधिकारियों एवं ग्राम प्रधानों के साथ बैठक कर उक्त के संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए अराजक तत्वों के प्रति सतर्कता बरतते हुए पूरी तरह सचेत रहने का निर्देश दिया गया। उन्होंने बताया कि पिंडरा तहसील अंतर्गत सभी क्षेत्र में शांति व्यवस्था एवं सतर्क दृष्टि बनाए रखने हेतु तहसील के मुख्य बॉर्डर एवं समस्त ग्रामों में राजस्व निरीक्षकों एवं लेखपालों की ड्यूटी लगा दी गई है। उन्होंने बताया कि बड़ागांव थाना क्षेत्र में 4, फूलपुर थाना क्षेत्र में 5 तथा सिंधोरा थाना क्षेत्र में 6 सहित कुल 15 लोगों के विरुद्ध 151 की कार्यवाही की गई है। ये सभी लोग 17 जून की शहर में हुई तोड़फोड़ में सम्मिलित बताए जाते हैं।
अग्निपथ योजना के विरोधियों को हिसात्मक प्रदर्शन को रोकने को पुलिस व प्रशासनिक अफसर ग्रामीणों को समझाते हुएहिंसक गतिविधि में शामिल युवाओं के चरित्र प्रमाण पत्र में होगा उल्लेख

शहर में अशांति फैलाने और बसों में तोड़फोड़ करने वालों की जैसे-जैसे पहचान हो रही है ग्रामीण क्षेत्रों में उनपर शिकंजा कसने की तैयारी है। भविष्य में कोई जिले का निवासी अपने क्षेत्र में या शहर में हिंसक या कानून तोड़ने वाली गतिविधियों में लिप्त पाया जाएगा तो नौकरियों के लिए उनके चरित्र सत्यापन में भी इसी का उल्लेख करते हुए नकारात्मक रिपोर्ट भेजी जाएंगी ताकि सरकारी नौकरी में कभी चयन नहीं हो पाए। जिले में 17 जून की शहर की हिंसक घटनाओं में पकड़े गए नामजद और जेल में बंद 27 व्यक्तियों पर ये लागू भी हो गया है।
कलेक्टर की अपीलःविरोध प्रदर्शन में न हों शामिल, अपने हाथ न लें कानून

कलेक्टर ने कहा है कि Agneepath Scheme का कोई विरोध करता है तो उसे सडकों पर निकल कर किसी सरकारी या निजी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने या शहर में आ कर शहरवासियों का व्यापार प्रभावित करने का अधिकार नहीं है। उन्होने सलाह दी है कि किसी को योजना सही नहीं लग रही तो वो शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात रखें। ज्ञापन देना है तो भी गांव में ही ज्ञापन दें। अधिकारी गांवो में जाकर उनसे ज्ञापन लेंगे।
बन रही उप्रदवियों की सूची किया जा रहा बाउंडडाउन

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि अग्निपथ भर्ती योजना के हिंसक विरोध के दौरान जिन लोगों की गिरफ्तारी की गई है, उनसे पुलिस द्वारा पूछताछ की गई है। पुलिस ने जो जांच की है उस जांच के आधार पर संदिग्ध व्यक्तियों के विरुद्ध ग्रामीण थाना क्षेत्रों में 107/16 की कार्रवाई के तहत बाउंडडाउन की कार्रवाई की गई है। ग्रामीण सरकारी कर्मचारियों के माध्यम से भी शहर में आ कर उपद्रव करने वालों की सूची बनाई जा रही है।
किसी सूरत में कानून अपने हाथ में न लें

सभी उप जिलाधिकारी, पुलिस क्षेत्राधिकारी, तहसीलदार, थानाध्यक्षगण ने अपने- अपने क्षेत्र के ग्राम प्रधानों और कोचिंग चलाने वालों के साथ बैठक कर उन्हें यह स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि उनके गांव से कोई भी व्यक्ति कानून व्यवस्था को अपने हाथ में न लें और न ही किसी तरह हिंसक गतिविधि में लिप्त हो। विभिन्न प्रचार माध्यमों से सभी को अवगत कराया जा रहा है कि कोई भी धरना-प्रदर्शन व हिंसक गतिविधियां न करें तथा सार्वजनिक संपत्तियों, बसों, रेलगाड़ियों को कत्तई नुकसान न पहुंचाएं अन्यथा ऐसे लोगों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। ऐसे लोग भविष्य में सभी सरकारी नौकरियों से वंचित हो जाएंगे।
जनप्रतिनिधियों की ली जा रही मदद

अधिकारियो ने ग्रामीण जनप्रतिनिधियों के माध्यम से सभी जनसामान्य को संदेश देने के लिए कहा है कि कोई भी गांव का व्यक्ति विरोध प्रदर्शन को शहर में न आए। किसी भी गांव के व्यक्ति की शहर में विरोध प्रदर्शन की खबर मिली या ग्रामीण क्षेत्रों की ही सड़कों पर कानून व्यवस्था बाधित करने की खबर मिली तो उन सभी के विरुद्ध कड़ी विधिक कार्रवाई की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

'मैं उन्हें गोली मारने को भी तैयार',पीसी जॉर्ज की पत्नी ने CM विजयन को दी खुलेआम धमकीAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की हत्या को पहले डकैती का एंगल दिया गया, इसकी जांच करवाएंगे- डिप्टी सीएमपंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान सोमवार को मंत्रिमंडल का करेंगे विस्तार, कई नए मंत्री ले सकते हैं शपथAmravati Murder Case: उमेश कोल्हे की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आई सामने- गर्दन पर चाकू का गहरा घाव, दिमाग व आखं की नस और खाने की नली डैमेजIND vs ENG: Jonny Bairstow ने भारत के खिलाफ जड़ा तूफानी शतक, बनाए कई महत्वपूर्ण रिकॉर्ड्सराजधानी में आधे दिन तक ही रहा प्रदेश बंद का असर, यात्रियों को हुई असुविधा, तो कहीं राशन के लिए भटके लोगMaharashtra: आरटीआई एक्ट का गलत फायदा उठाकर रंगदारी वसूलने के आरोप में 23 गिरफ्तार, पुलिस ने खोले बड़े राजसड़क पर उतरे लोग, बोले-हत्यारों को फांसी दो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.