लोकसभा चुनाव 2019- आदर्श आचार संहिता लागू, सोशल मीडिया पर बिना अनुमति नहीं पोस्ट होंगे डिजिटल विज्ञापन

Ajay Chaturvedi

Updated: 10 Mar 2019, 09:08:14 PM (IST)

Varanasi, Varanasi, Uttar Pradesh, India

वाराणसी. लोकसभा चुनाव 2019 के लिए जिले में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। इस चुनाव में सोशल मीडिया पर भी सख्त निगाह रखी जाएगी। इसके तहत फेसबुक, यू ट्यूब के साथ ही वेबसाइट पर भी निगाह रखी जाएगी। किसी तरह के डिजिटल विज्ञापन का जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा गठित कमेटी से परीक्षण कराना होगा। इसके बगैर जो कोई भी डिजिटल विज्ञापन को सोशल मीडिया पर अपलोड करेगा उसके विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी। यह कहना है जिला निर्वाचन अधिकारी और डीएम वाराणसी सुरेंद्र सिंह का। बताया कि बनारस में अंतिम चरण में 19 मई को होगा मतदान।

डीएम सिंह ने आचार संहिता लागू करते हुए मीडिया को बताया कि फेसबुक, गूगल और यू ट्यूब पर किसी तरह का डिजिटल विज्ञापन डालने से पहले एमसीएमसी (मीडिया सर्टिफिकेशन मीडिया स्क्रीनिंग कमेटी) से अनुमति लेनी होगी। एमसीएमसी की रजामंदी के बाद ही डिजिटल विज्ञापन पोस्ट किए जा सकेंगे।

-यही नहीं ह्वाट्सएप पर भी डिजिटल विज्ञापन पोस्ट करने से पहले एमसीएमसी की अनुमति लेनी होगी।

-लाउडस्पीकर का इस्तेमाल रात के 10 से सुबह 06 बजे के बीच नहीं किया जा सकेगा।

-बाइक, कार पर कोई भी राजनीतिक दल का झंडा लगा सकता है लेकिन इसके लिए तय साइज का पालन करना होगा। बाइक सवार 2x1 फीट का झंडा लगा सकते हैं, झंडे के लिए तीन फीट का डंडा स्वीकृत होगा। इसी तरह कार चालक एक फीट का झंडा लगा सकेंगे।

-कोई भी सामान्य नागरिक अपने घर पर किसी दल का एक झंडा लगा सकेगा लेकिन किसी कैंडि़डेट का नहीं।

- आचार संहिता लागू होने के बाद हर पोलिटिकल एक्टिविटी पर नजर रहेगी। इसके लिए फ्लाइंग स्क्वायड गठित कर दिया गया है।

-रैली व मीटिंग पर नजर रखने के लिए अलग से जांच दल गठित किया गया है।

-किसी तरह के वायलेशन पर कार्रवाई के लिए भी कमेटी गठित की गई है।

-जिले के कुल 2990 पोलिंग सेंटर्स पर ईवीएम व वीवी पैड से मतदान होगा

-रोड शो के लिए गाड़ियां पहले से तय होंगी। स्वीकृत वाहनों पर स्टीकर लगाए जाएंगे। इसके तहत बनारस के लिए गुलाबी, चंदौली के लिए पीला और मछली शहर के लिए हरा स्टीकर होगा।

-एक साथ 10 वाहन ही रोड शो में शामिल होंगे।

-कोई भी पार्टी या कैंडिडेट किसी जानवर या स्कूल यूनिफार्म वाले बच्चों का चुनाव प्रचार में इस्तेमाल नही कर सकेगा।

-अगले 48 घंटे में सभी सार्वजनिक स्थलों से राजनीतिक दलों के बैनर, पोस्टर, कटआउट आदि हटा दिए जाएंगे। निजी भवनों से यह काम 72 घंटे में किया जाएगा।

जिले का आंकड़ा

-जिले में कुल 28 लाख से ज्यादा मतदाता हैं

-वाराणसी संसदीय क्षेत्र में 17 लाख, 96 हजार 930 मतदाता हैं

-407 मतदान केंद्र संवेदनशील हैं

-अब तक 8000 ऐसे लोगों को पाबंद किया गया है जिन्हें लेकर किसी तरह की शांति भंग की आशंका थी

-जिले के 11000 असलहाधारियों से असलहा जमा कराया जाएगा

प्रत्याशियों के शपथ पत्र

-अबकी पहली बार हर प्रत्याशी को अपना आपराधिक रिकार्ड समाचार पत्रों में तीन बार अपने खर्च पर प्रकाशित करना होगा
जीपीएस ट्रैकिंग होगी हर मतदानकर्मी की

हर मतदाता को मतदान के वक्त आयोग द्वारा स्वीकृत 11 पहचान पत्रों में से एक जरूर रखना होगा। इसमें आधार कार्ड, पैन कार्ड या कोई सरकारी पहचान पत्र, राशन कार्ड मान्य नहीं होगा

नामांकन के दिन प्रत्याशी के साथ 03 वाहन आ सकेंगे, नामांकन अधिकारी के कक्ष में पांच लोग ही जा पाएंगे।

-352 केंद्रों से वेबकास्टिंग होगी

 

चुनान आचार संहिता लागू होने के बाद रायफल क्लब से पीएम सीएम की फोटो हटाते कर्मचारी
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned